Breaking News

भारतीय अधिकारी का दावा, फिर से सक्रिय हुए आतंकी संगठन Indian official claims, re-activated terrorist organization

Posted on: 08 Mar 2019 13:25 by Pawan Yadav
भारतीय अधिकारी का दावा, फिर से सक्रिय हुए आतंकी संगठन  Indian official claims, re-activated terrorist organization

भारतीय वायुसेना ने पीओके में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के कैंपों को तबाह कर दिया था। इस कार्रवाई में करीब 350 आतंकियों के मारे जाने का दावा किया जा रहा है, लेकिन अब फिर से आतंकी शिविर सक्रिय हो गए हैं। वाशिंगटन के एक भारतीय अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान में 22 शिविर में आतंकियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इनमें से अकेले नौ शिविर जैश-ए-मोहम्मद के हैं।

भारतीय अधिकारी ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर सीमा पार से फिर से कोई आतंकी गतिविधि हुई तो ठीक वैसे ही कार्रवाई होगी, जैसी पिछले दिनों भारतीय वायुसेना ने की थी। इससे पहले पाकिस्तान की ओर से कहा गया था कि पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद का कोई वजूद
नहीं है।

अमेरिका ने भारत को फिर चेताया

पुलवामा हमले के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव जारी है। पाकिस्तान फिर भी आतंकियों के खिलाफ कड़े कदम नहीं उठा रहा है। इसी बीच अमेरिका ने एक बार फिर पाकिस्तान को आतंकी संगठनों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। अमेरिका के विदेश मंत्रालय का कहना है कि हमने पाक को कहा है कि वह अपनी धरती पर पल रहे आतंकी संगठनों के खिलाफ श्स्थायी एवं लगातार कार्रवाई करे।

पुलवामा में हुए हमले के बाद से ही पाकिस्तान वैश्विक दबाव में है। वहीं इसका बदला लेने के लिए भारतीय वायुसेना ने भी बीते 26 फरवरी को बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के आतंकी कैंपों को ध्वस्त कर दिया था। इसके बाद पाकिस्तान ने कुछ आतंकी संगठनों और कुछ नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की थी।

विदेश मंत्रालय के उपप्रवक्ता रॉबर्ट पालाडिनो ने गुरुवार को कहा, ‘मैं कहूंगा कि हम, अमेरिका इन कदमों पर ध्यान देते हैं और हम पाकिस्तान से फिर से यह अपील करेंगे कि वह आतंकवादी समूहों के खिलाफ लगातार और स्थायी कदम उठाए जिससे भविष्य में हमले रुकेंगे और क्षेत्रीय स्थिरता को बढ़ावा मिलेगा।’

हम फिर से अपील करते हैं कि पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रति अपनी प्रतिबद्धताओं का पालन करे और आतंकवादियों की पनाहगाह नष्ट करे एवं उनके वित्त पोषण को रोके।’ रॉबर्ट ने जैश के नेता मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने संबंधी प्रश्न का सीधा उत्तर नहीं दिया, लेकिन उन्होंने कहा कि अमेरिका और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में उसके सहयोगी आतंकवादी संगठनों और उसके सरगनाओं की संयुक्त राष्ट्र की सूची को अपडेट करना चाहते हैं।

Read More : अमेरिका जैश-ए-मोहम्मद और आतंकी मसूद पर करेगा कार्रवाई

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com