देश

भारत ने गावी को दी 15 मिलियन डॉलर की मदद, पीएम मोदी बोले- मानवता की सेवा हमारा उद्देश्य

नई दिल्ली। ब्रिटेन ने गुरूवार को कोरोना वैक्सीन शिखर सम्मेलन आयोजित कियां जिसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी संबोधित किया। इस दौरान उन्होने भारत की ओर से अंतरराष्ट्रीय वैक्सीन गठबंधन गावी को 15 मिलियन अमेरिकी डॉलर की मदद देने का ऐलान किया है। वीडिया काॅन्फ्रेंसिंग से हुए इस शिखर सम्मेलन में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन द्वारा सभी देशों से लोगों की जान बचाने और भविष्य में संक्रमक रोगों से दुनिया की रक्षा के लिए टीकाकरण के लिए वित्त पोषण करने का संकल्प लेने का आग्रह किया था।

प्रधानमंत्री मोदी ने शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि गावी को भारत की ओर से केवल वित्तीय समर्थन ही नहीं है। हमारी भारी मांग टीकों की वैश्विक कीमत में कमी लाती हैं आज के चुनौतीपूर्ण दौर में भारत विश्व के साथ एकजुट खड़ा है। उन्होने कहा कम लागत में गुणवत्तापूर्ण दवाएं और टीके का उत्पादन करने की हमारी क्षमता, तेजी से बढ़ रहे टीकाकरण में हमारा घरेलू अनुभव हैं। भारत का उद्देश्य मानवता की सेवा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि संक्रामक रोगों के खिलाफ जारी टीकाकरण जैसे महत्वपूर्ण मिशन में विश्व भारत के समर्थन पर भरोसा कर सकता है। इस दौरान उन्होने भारत सरकार द्वारा चलाए जा रहे मिशन इंद्रधनुष की तरफ भी इशारा किया, जिसका उद्देश्य देश में बच्चों और गर्भवती महिलाओं का पूर्ण टीकाकरण सुनिश्चित करना है।

बता दे कि इस सम्मेलन में पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समेत करीब 35 देशों के राष्ट्राध्यक्ष और सरकारी प्रतिभागियों में शामिल हुए थे, इनका उद्देश्य 2025 तक विश्व के सबसे गरीब देशों में 300 मिलियन से अधिक बच्चों का टीकाकरण करने के लिए 7.4 मिलियन अमेरिकी डॉलर जुटाने थो।