अमेरिका-चीन की लड़ाई का भारत को मिलेगा फायदा

0
17

नई दिल्ली। अमेरिका और चीन में चल रही खींचतान और ट्रेड वॉर के बीच भारतीय किसानों को फायदा हो सकता है। जी हां…वो इसलिए कि अभी तक चीन सोयाबीन और सफेद सरसों का आयात अमेरिका से करता था। अब चूंकि अमेरिका और चीन में ट्रेड वॉर की स्थिति बनी हुई है ऐसे में चीन में भारतीय दूतावास ने मांग उठाई है कि भारत से सोयाबीन और सफेद सरसों का आयात किया जाए। अगर ऐसा होता है और चीन सरकार इसको मंजूरी देती है तो भारतीय उत्पाद सोयाबीन और सफेद सरसों के लिए एक बड़ा खरीदार देश मिल जाएगा और इससे भारतीय किसानों को अच्छा मुनाफा होगा।
उल्लेखनीय है कि साल २००५ में भारत में सफेद सरसों का उत्पादन 6820 टन था। इसका ज्यादा उत्पादन राजस्थान, हरियाणा, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में होता है। वहीं सोयाबीन के उत्पादन की बात करें तो यह पिछले साल में १३ मिलियन टन था। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और राजस्थान इसके बड़े उत्पादक हैं। हालांकि, बारिश की कमी और फसल खराब होने की वजह से इसके उत्पादन में कमी आ रही है। सफेद सरसों की बात करें तो कुछ सालों पहले तक भारत में सफेद सरसों का अच्छा उत्पादन होता था, लेकिन अब धीरे-धीरे किसानों ने इसकी पैदावार लेना बंद कर दिया है। अब अगर चीन से मांग आती है तो भारत में फिर से किसान सफेद सरसों की फसल लेने के लिए आकर्षित हो सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here