हम चाहते हैं करतारपुर कॉरिडोर प्रोजेक्ट जल्द से जल्द पूरा हो जाए- भारत

0
37
kartarpur

नई दिल्ली : भारत -पाकिस्तान के बीच बन रहे करतारपुर गलियारे को लेकर भारत ने यह प्रोजेक्ट जल्द पूरा होने की उम्मीद जताई है और कहा है कि यात्री टर्मिनल सितंबर 2019 तक और हाईवे का काम अक्तूबर 2019 तक पूरा हो जाएगा। भारत ने उन रिपोर्टस को भी खारिज कर दिया है जिसमें करतारपुर प्रोजेक्ट का का धीमी गति से चलने की बात की जा रही है।

करतारपुर कॉरिडोर को लेकर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि यह प्रोजेक्ट जल्द से जल्द पूरा हो जाए। जहां तक इन्फ्रास्ट्रक्चर की बात है, दो पहलुओं पहलुओं पर काम चल रहा है। इनमें से एक अत्याधुनिक यात्री टर्मिनल है और एक चार लेन का हाईवे है, जो करतारपुर कॉरिडोर के जीरो पॉइंट को राष्ट्रीय राजमार्ग से जोड़ेगा।’

रवीश ने कहा, ‘हमें उम्मीद है कि दोनों प्रोजेक्ट का काम समय पर पूरा हो जाएगा। यात्री टर्मिनल सितंबर 2019 तक और हाईवे का काम अक्तूबर 2019 तक पूरा होने की उम्मीद है। इसलिए ऐसी रिपोर्ट्स जो यह बता रही हैं कि हमारे प्रोजेक्ट धीमी गति से चल रहे हैं, ये गलत हैं।’

गौरतलब है कि इससे पहले पाकिस्तान ने भी करतारपुर गलियारे का 80 फीसदी काम पूरा होने की बात कही थी। पाकिस्तान की ओर से इस परियोजना के निर्माण कार्यों से जुड़े एक वरिष्ठ अभियंता ने कहा कि मुख्य मार्ग, पुल और शून्य रेखा से गुरुद्वारा साहिब तक के भवन समेत 80 प्रतिशत तक काम पूरा हो चुका है और शेष रह गए कार्य भी निर्धारित समय से पहले निपटा लिए जायेंगे। उन्होने कहा, गुरुद्वारा साहिब पर पार्किंग का काम कमोबेश पूरा किया जा चुका है और अब पौधारोपण और भूमि सुधार का काम जोरों पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here