अमेरिका-ईरान में बढ़ा विवाद, इन देशों ने बंद की हवाई सेवा

0
36
DENVER, CO - August 25, 2016: A United Airlines Airbus A319 passenger plane taxis toward a gate at Denver International Airport in Denver, Colorado. (Photo by Robert Alexander/Getty Images)

अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ते तनाव का असर दुनियाभर पर नजर आने लगा है। इस तनाव से भारत भी अछूता नहीं रहा। दोनों देशों के बीच चल रही तकरार के बीच भारतीय हवाई यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। अमेरिका की यूनाइटेड एयरलाइंस ने नेवार्क एयरपोर्ट से मुंबई के बीच उड़ानें रद्द कर दी है, क्योंकि अमेरिका से मुंबई के लिए विमान ईरान के हवाईक्षेत्र होकर आते हैं। अमेरिकी एयरलाइंस का कहना है कि ईरान द्वारा ड्रोन को मार गिराने के बाद सुरक्षा को देखते हुए यह कदम उठाया गया है। हालांकि यह नहीं बताया गया कि उड़ानें कब तक बंद रहेंगी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ईरान द्वारा अमेरिकी ड्रोन गिराने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान को चेतावनी दे डाली है।

ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि ईरान ने बहुत बड़ी गलती कर दी है।’ ट्रंप की इस कम अक्षरों वाली चेतावनी को बड़ी कार्रवाई का इशारा माना जा रहा है। इस तनाव के बीच दोनों देशों में युद्ध के संकेत नजर आ रहे हैं। इधर, यूनाइटेड एयरलाइंस के प्रवक्ता का कहना है कि मुंबई से नेवार्क जाने वाले यात्रियों को अमेरिका की वैकल्पिक उड़ानों के जरिए भेजा जाएगा।

प्रवक्ता ने कहा कि हम संबंधित सरकारी अधिकारियों के साथ संपर्क करेंगे और सभी विकल्पों पर विचार करेंगे, ताकि अपने ग्राहकों को इन परिस्थितियों में सबसे कुशल यात्रा का अनुभव प्रदान कर सकें। वहीं दो विमानन कंपनियों अमेरिकन एयरलाइंस और डेल्टा एयरलाइंस ने कहा कि वह ईरान के हवाई क्षेत्र से होकर नहीं गुजरेंगी।

जापानी एयरलाइंस जापान एयरलाइंस को लिमिटेड और एएनए होल्डिंग्स आईएनसी का भी कहना है कि वह ईरान के ऊपर से उड़ान नहीं भरेगा। इधर, ईरान के सशस्त्र बल रिवोल्यूशनरी गार्ड का कहना है कि उसने हर्मुज जलसंधि के पास अपने हवाई क्षेत्र में एक अमेरिकी जासूसी विमान को मार गिराया है। इस शक्तिशाली ड्रोन की कीमत 1260 करोड़ रुपए है। ईरानी सेना के कमांडर हुसैन सलामी ने दावा किया था कि अमेरिकी ड्रोन ईरान की हवाई सीमा की रेड लाइन पार कर चुका था। गिराए गए अमेरिकी ड्रोन ट्राइटन ने यू-2 जासूसी विमान की जगह ली है। इसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ड्रोन गिराए जाने को लेकर ईरान को खुली चेतावनी दे दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here