‘वायु’ तूफ़ान का यू-टर्न, कच्छ में मचा सकता है तबाही

0
16

गुजरात: चक्रवाती तूफ़ान वायु का ख़तरा एक बार फिर गुजरात की ओर बढ़ने लगा है। एक बार फिर अपनी दिशा बदलकर ये तूफ़ान कच्छ से टकरा सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ ओमान की ओर गया यह तूफ़ान अगले 36 घंटे में वापस कच्छ की सीमा से टकराएगा। हालांकि राहत की बात ये है कि इसकी तीव्रता कम हो सकती है।

चक्रवाती तूफान गुजरात के पोरबंदर और द्वारका में भी बड़ा असर डालेगा। अनुमान है कि अगले 48 घंटे में यह पश्चिम की ओर बढेगा। इसके बाद यह फिर से उत्तर-पूर्व की ओर फिर से बढ़ सकता है। इसको लेकर गुजरात राज्य का प्रशासन अलर्ट पर है। तेज रफ़्तार हवाओं के साथ-साथ भारी बारिश होने का अनुमान है।

NDRF अलर्ट

इससे पहले गुरुवार सुबह खबर आई थी कि वायु का असर पूरे राज्य पर नहीं बल्कि तटीय इलाकों पर ही देखने को मिल सकता है। ऐसे में किसी भी अनहोनी का सामना करने के लिए NDRF की 52, SDRF की 9, SRP की 14 कंपनियां तैनात हैं। राज्य सरकार के साथ-साथ केंद्र सरकार भी इस मामले पर नजर बनाए हुए है।

24 घंटे अहम्, स्कूल-कॉलेज बंद

चक्रवाती तूफान वायु के खतरे को लेकर हुई बैठक में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा था कि चक्रवात वायु अब ओमान की ओर मुड़ गया है लेकिन इसके बाद भी अगले 24 घंटे गुजरात के लिए अहम रहेंगे। इस दौरान स्थानीय प्रशासन और एनडीआरएफ की टीमें हाई अलर्ट मोड पर रहेंगी। प्रभावित 10 जिलों के सभी स्कूल, कॉलेज शुक्रवार को भी बंद रहेंगे।

ट्रेनें रद्द

वायु के खतरे को देखते हुए 7 मेन-लाइन ट्रेनें रद्द कर दी हैं। इसके अलावा 5 ट्रेनें अल्पावधि के लिए आंशिक रूप से रद्द की गई हैं। द्वारका की ओर बढ़ रहे इस तूफ़ान का असर पोरबंदर और उसके आस-पास के इलाकों में देखने को मिल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here