इस वक्त अलग-अलग देश के इलाकों में भिन्न-भिन्न प्रकार का मौसम देखने को मिल रहा है। इसी बीच एक बार फिर से मौसम विभाग ने चेतावनी जाहिर करते हुए अगले 24 घंटे के भीतर पश्चिम विक्षोभ सक्रिया होने की आशंका जताई है। जिसकी वजह से कई राज्यों में तापमान के गिरावट के साथ बारिश हो सकती है। वही 12 जनवरी तक उत्तर-पश्चिम भारत के अधिकांश क्षेत्रों में तापमान 2-4 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है।

इसी के साथ उत्तर भारत के अधिकांश राज्यों में घने कोहरे का असर तो पहाड़ी इलाको में बर्फबारी जारी रहेंगी। वही जम्मू-कश्मीर समेत 5 राज्यों में झमाझम बारिश हो सकती है।

2 दिनों तक शीतलहर के साथ घना कोहरा

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, अगले 2 दिन में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, पंजाब, पश्चिम बंगाल, बिहार में शीतलहर के साथ पारा तेजी से गिरेगा। घने से बहुत घना कोहरा छाने की भी संभावना है। वही मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक, अगले 24 घंटे के दौरान गंगा के मैदानी इलाकों में घने कोहरे के साथ हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में शीतलहर से भीषण शीतलहर की स्थिति रहेगी। वही हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में कोल्ड डे की स्थिति बनी रह सकती है।

दिल्ली में कोल्ड डे का अलर्ट

देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सोमवार को घने कोहरे को ध्यान में रखते हुए कोल्ड डे का अलर्ट जारी कर दिया है। राजधानी से सटे राज्य उत्तर प्रदेश के साथ मध्य प्रदेश में कोल्ड वेव और घने कोहरे का रेड अलर्ट जारी किया गया है। इनके साथ-साथ राजस्थान, बिहार, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ के कई इलाकों में भी चेतावनी जारी कर दी गई है।

अगले दो दिनों के दौरान बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, पश्चिम मध्य प्रदेश और तेलंगाना के छिटपुट इलाकों में शीत लहर की स्थिति रहने की संभावना है।

इन राज्यों में हो सकती है बारिश

12 जनवरी तक जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के कुछ इलाकों में बारिश होने के आसार है। असम, मेघालय, मणिपुर, नागालैंड, मिजोरम में भी कहीं कहीं हल्की बारिश देखने को मिल सकती है। अगले दो से तीन दिनों के दौरान जम्मू के अलग-अलग इलाकों, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर मध्य प्रदेश, बिहार, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम, असम और मेघालय, मिजोरम और त्रिपुरा के अलग-अलग इलाकों में घना कोहरा छाए रहने की आशंका जताई गई है।

वहीं दक्षिण हरियाणा, उत्तरी राजस्थान, उत्तरी मध्य प्रदेश और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में पाला भी पड़ सकता है।

ये बताया मौसम विभाग ने

एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक, वर्तमान में उत्तरी पाकिस्तान और इससे सटे पश्चिमी हिमालय पर एक वेस्टर्न डिस्टर्बेंस बना हुआ है। 10 जनवरी को एक और पश्चिमी विक्षोभ के पश्चिमी हिमालय तक पहुंचने के आसार है, जिससे उत्तर भारत की मौसमी गतिविधियों में बदलाव होगा। इसके प्रभाव से शीतलहर के साथ कड़ाके की ठंड और तीव्र घना कोहरा छाने के संकेत है।