उत्तर भारत के लोगों को जबरदस्त सर्दी का सितम सहना पड़ रहा है। पहाड़ों से आ रही बर्फीली हवाओं ने कंपकंपी और बढ़ा दी है। दिल्ली हो या राजस्थान, या फिर मध्य प्रदेश हर जगह ठंड सारे रिकॉर्ड तोड़ रही है। जबरदस्त ठंड के चलते लोग अपने घरों में कैद हैं। तो वहीं दूसरी तरफ देश के कुछ राज्यों में बारिश का कहर जारी है। वही पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी हो रही है। जिसकी वजह से भारत के अधिकांश क्षेत्रों में तेजी से मौसम परिवर्तित हो रहा है। इससे लोगो को कई मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है।

मौसम विभाग ने इन राज्यों में दी भारी बारिश की चेतावनी

हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, लद्दाख में छिटपुट बर्फबारी के साथ बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। इसके अलावा उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड के कुछ हिस्से में बारिश देखने को मिल सकती है। साथ ही पंजाब-हरियाणा, पूर्वी राजस्थान, मध्य प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, त्रिपुरा में घने कोहरे छाए रहेंगे। इसके साथ ही इन क्षेत्रों में शीतलहर की चेतावनी जारी कर दी गई। हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, गुजरात, छत्तीसगढ़ सहित हिमाचल और उत्तराखंड में शीतल दिन की चेतावनी जारी की गई है कोल्ड डे का रेड अलर्ट जारी किया गया है।

राजस्थान में ठण्ड से नहीं मिलेगी राहत

राजस्थान में सर्दी का सितम जारी है। मौसम विभाग के मुताबिक अभी ठंड के प्रकोप से राहत नहीं मिलेगी। मौसम विभाग के मुताबिक राज्य में चल रहे अति शीतलहर, कोल्ड डे और कोहरा का दौर अगले 48 घंटों तक जारी रहने की संभावना है। मौसम विभाग का कहना है कि 8 जनवरी से राजस्थान के ज्यातादर भागों में शीतलहर से राहत मिलने का अनुमान है। मौसम विभाग ने अति शीतलहर, कोल्ड डे और कोहरा को लेकर राज्य के अलग-अलग जिलों में अलर्ट भी जारी किया है।

उत्तर प्रदेश में इन इलाकों अलर्ट जारी

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने बढ़ती ठंड और शीतलहर को देखते हुए यूपी के कई जिलों में येला और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इन जिलो में विभाग ने कोल्ड डे (Cold Day) की चेतावनी जारी की है। विभाग के अनुसार इन जिलों में घना से घना कोहरा और कड़के की ठंड रहने की संभावना है। वहीं मौसम विभाग के अनुसार आज लखनऊ में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।

बिहार में हो सकती है बारिश

बिहार में 8 जनवरी से मौसम में भारी बदलाव नजर देखने को मिलेगा। बिहार में ठंड से 64 साल का रिकॉर्ड टूट गया है। मौसम विभाग द्वारा शीतलहर को लेकर अलर्ट जारी किया गया। अगले 5 दिन तक फिलहाल मौसम में कोई बदलाव नहीं होगा। वही घने कोहरे से लोगों को बचने की सलाह दी गई है। मौसम वैज्ञानिकों की माने तो साल 1960 से लेकर साल 2023 तक अधिकतम तापमान सबसे कम है। उत्तर भारत में पिछले 64 साल में सबसे कम अधिकतम तापमान जनवरी में 5 दिसंबर का रिकॉर्ड किया गया है। 9 दिसंबर से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण मौसम में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव देखने को मिलेंगे। साथ ही कोहरे और धुंध की तीव्रता में भी कमी आएगी।

Also Read : Jio के इस प्लान के आगे पूरी तरह फेल है Airtel-Vi, मात्र 26 रुपए में मिलता है इतना कुछ

मध्य प्रदेश के इन जिलों में बारिश की सम्भावना

मध्य प्रदेश में अभी शीतलहर का कहर जारी रहेगा। एमपी के कुछ इलाकों में हल्की बारिश ने ठंड को और भी बढ़ा दिया है। मध्य प्रदेश के नौगांव में सबसे कम 2.8 और दतिया में 3.5 डिग्री तापमान दर्ज की गई है। राज्य में आने वाले दिनों में भी ठंड का प्रकोप जारी रहेगा। वहीं मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक पिछले 24 घंटे में प्रदेश के जबलपुर संभाग के कई जिलों में बारिश दर्ज की गई। इसके अलावा 6 संभागों में मौसम शुष्क रहा। भोपाल में घना कोहरा छाया रहा। इसके अलावा, गुना, ग्वालियर, जबलपुर, छतरपुर, सागर, बालाघाट जिले में हल्के से मध्यम कोहरा देखने को मिला।