गले का दर्द दूर करना हैं, तो आजमाएं ये घरेलु उपाय

बारिश के मौसम में गले में दर्द होने जैसी समस्या सामने आती हैं।

0
60
barish

बारिश के मौसम में गले में दर्द होने जैसी समस्या सामने आती हैं। बारिश में सर्दी, जुखाम होना भी आम बात हैं। इस मौसम में गले में खराश की समस्या बहुत सारे लोगों में हो जाती है। खट्टी या ठंडी चीजों को खाने से भी गले में खराश या फिर गला खराब हो जाता हैं। इस मौसम में खराश, गले में दर्द, खांसी-जुकाम और बुखार जैसी बीमारियां होना आम बात हैं। इनसे बचने के लिए कुछ घरेलू उपाय आपकी मदद कर सकते हैं।

ऐसे दूर करें आपके गले के दर्द को –

  • एक कप पानी में एक चम्मच एप्पल साइडर विनेगर मिक्स कर उसमें शहद डालें और एक-दो कप पिएं। इससे आपकी खांसी और जलन की समस्या दूर होगी।
  • हल्दी में एंटीबैक्टीरियल और एंटीबायोटिक गुण प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसलिए गर्म दूध में हल्दी को मिलाकर पीने से गले की खराश कुछ ही दिनों में जड़ से खत्म हो जाती है और आप राहत महसूस करते हैं।
  • लहसुन खाने से गले में जमा कफ बाहर निकल जाता है। इस देसी नुस्खे से टीवी के रोग में भी राहत मिलती है। छोटे बच्चे की छाती में जमा कफ निकालने के लिए गाय के घी को बच्चे की छाती पर रगड़े इस उपाय से जमा हुआ कफ बाहर निकल जाता है।
  • लौंग, तुलसी, अदरक और काली मिर्च को पानी में डालकर उबालें, इसके बाद इसमें चाय पत्ती डालकर चाय बनाएं। इस चाय को गरम ही पिएं। यह भी गले के लिए बेहद लाभदायक उपाय है।
  • कई बार गले के सूखने के कारण भी गले में इंफेक्शन की शिकायत होती है। ऐसे में किसी बड़े बर्तन में गुनगुना पानी करके तौलिये से मुंह ढंककर भाप लें।
  • एक कप पानी में 4 से 5 कालीमिर्च एवं तुलसी की 5 पत्तियों को उबालकर काढ़ा बना लें और इस काढ़े को पिएं। यह रात को सोते समय पीने पर लाभ होगा। इसके अलावा भोजन में आप साधारण चीजें ही खाएं तो बेहतर होगा।
  • पालक के पत्तों को पीसकर इसकी पट्टी बनाकर गले में बांधे और 15 से 20 मिनट तक इसे बांधे रखने के बाद खोल लें। इसके अलावा धनिया के दानों को पीसकर उसका पाउडर बनाएं और उसमें गुलाब जल मिलाकर गले पर लगाएं।
  • नमक में पाए जाने वाले एंटी इफ्लेमेटरी गुण गले की खराश को दूर करने में काफी मदद करते है। यह मुंह व गले के बैक्टीरिया व वायरस को दूर करने के साथ गले की सूजन व खुरदुरेपन को खत्म करते है। इसके लिए गुनगुने पानी में नमक मिलकर रोज 3 से 4 बार गरारे करने चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here