Breaking News

ट्रेन लेट हुई तो अफसरों की खैर नही, मंत्री ने दी प्रमोशन रोकने की चेतावनी

Posted on: 03 Jun 2018 12:23 by Praveen Rathore
ट्रेन लेट हुई तो अफसरों की खैर नही, मंत्री ने दी प्रमोशन रोकने की  चेतावनी

नईदिल्ली. भारतीय रेल अक्सर लेट चलती हें, लेकिन इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पूछताछ करने के बाद रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अफसरों की क्लास ले ली. गोयल ने सख्त लहजे में अफसरों को साफ कह दिया है की समय प्रबंधन में एक माह में सुधार नही किया तो अफसरों की पदोन्नति पर विचार नही किया जाएगा.

दरअसल रेलवे बोर्ड की जारी रिपोर्ट में कहा गया था कि देशभर में 30 प्रतिशत ट्रेने लेट चल रही हैं. पिछले महीने प्रगति मीटिंग के दौरान पीएम मोदी ने  रेल मंत्री  से ट्रेनों के समय प्रबंधन पर सवाल पूछे थे। इसके बाद गोयल ने सभी जोनल प्रमुखों से खराब समय प्रबंधन का विवरण मंगवाया था. विवरण देखने के बाद गोयल के गुस्से का सबसे ज्यादा सामना उत्तर रेलवे के जनरल मैनेजर को करना पड़ा। इस क्षेत्र में रेलवे की करीब 49% ट्रेनें लेट रही हैं, पिछले साल के मुकाबले ये आंकड़ा 32.74% ज्यादा खराब है। इसके बाद पूर्वोत्तर फ्रंटियर रेलवे 27% और पूर्वी रेलवे 26% भी लेटलतीफी के आंकड़े में आगे रहे हैं।

क्यों नाराज हुए गोयल

अफसरों से जब ट्रेनें लेट होने की वजह पूछी गई तो लगभग सभी जोन के अफसरों ने रटारटाया जवाब दिया कि निर्माण कार्यों के चलते ट्रेने लेट हो रहीं हैं. इस मंत्री जी अफसरों पर बिफर गये और उन्होंने सख्त चेतावनी दे दी कि ये बहानेबाजी अब नही चलने वाली है, एक महीने में स्थिति नही सुधरी तो अफसरों के प्रमोशन पर विचार नही किया जाएगा. उन्होंने कहा की सभी के काम का मुल्यांकन किया जाएगा क्योंकि सभी जोन रख-रखाव कार्यों को अपनी असफलता छिपाने के लिए बहाने की तरह इस्तेमाल कर रहे हैं। बता दें कि इससे पहले इसके अलावा पिछले महीने ही रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहनी भी जोन के प्रमुख अफसरों हिदायत दे चुके थे, इसके बावजूद सुधार नही हो पाया.

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com