Breaking News

एक महीने बाद शुरू होगा विश्व कप, जानिए कुछ टीमों के बारे में

Posted on: 02 May 2019 15:40 by Surbhi Bhawsar
एक महीने बाद शुरू होगा विश्व कप, जानिए कुछ टीमों के बारे में

नई दिल्लीः जैसे की आपको पता ही होगा की विश्व कप 30 मई से शुरू जा रहा है। चार साल में एक बार होने वाला ये वर्ल्ड कप इस बार अंग्रेजों की धरती पर हो रहा है। इस बार विश्व कप लगभग सवा महीना चलेगा, विश्व कप का फाइनल लंदन के लॉर्ड्स मैदान पर खेला जाएगा। इस बार विश्व कप में एक ही ग्रुप है, जिसका मतलब है कि इस बार सभी टीमें एक दूसरे के खिलाफ होंगी।

  • भारत

वर्ल्ड कप की प्रबल दावेदार मानी जा रही भारतीय टीम ने अपने 15 सदस्य की टीम 15 अप्रैल को घोषित की थी। विराट कोहली को कप्तान तथा रोहित शर्मा को उप-कप्तान बनाया गया है। महेंद्र सिंह धोनी भारतीय टीम के विकेट-कीपर होंगे।

कुछ ऐसी है टीम

रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली(कप्तान), केदार जाधव, एम.एस. धोनी(विकेट कीपर), हार्दिक पंड्या, रविंद्र जडेजा, लोकेश राहुल, दिनेश कार्तिक, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, भुवनेशवर कुमार और युजवेंद्र चहल।

टीम की खूबियां

भारतीय टीम के पास अनुभव की बिलकुल भी कमी नही है। भारतीय टीम में एक दिवसीय मैच के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज-कोहली और सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज-बुमराह है। भारतीय टीम का टॉप आर्डर भी अच्छे फॉर्म में चल रहा है साथ ही भारतीय टीम के स्पिन गेंबाजो की फिरकी ने सभी देश के बल्लेबाजों को परेशान किया है।

टीम की कमजोरियां

भारतीय टीम के लिए मिडिल आर्डर एक चुनौती होगी खासकर चौथे नंबर पर बल्लेबाजी की दिक्कत बनी हुई है। आपको बता दे कि 2015 के वर्ल्ड कप के बाद से भारतीय टीम ने अभी तक दर्जन भर से ज्यादा बल्लेबाजों को इस स्थान पर बल्लेबाजी कराई है परन्तु भारतीय टीम को अभी तक इस स्थान के लिए अनुरूप बल्लेबाज नहीं मिला है।

  • विंडीज

छोटे-छोटे द्वीप से मिल कर बनी ये टीम इस बार अपना नाम वेस्ट इंडीज से बदल कर विंडीज के नाम से खेल रही है। वर्ल्ड कप से पहले सितारा खिलाड़ियों के लौटने से इस टीम को अब कमजोर नही माना जा रहा है। विंडीज ने अपनी टीम में का ऐलान 25 अप्रैल को किया था। विंडीज ने जैसन होल्डर को कप्तान और निकोलस पूरन को अपना विकेट-कीपर घोषित किया है।

कुछ इस प्रकार है टीम

क्रिस गेल,एविन लेविस, डैरेन ब्रावो, शिमरॉन हेटमायर, एश्ले नर्स, फेबियन एलन, आंद्र रसेल, कार्लोस ब्रैथवेट, जैसन होल्डर(कप्तान), शाई होप, निकोलस पूरन(विकेट-कीपर), केमर रोच, ओशने थॉमस, गेब्रियल और शेल्डॉन कौट्रेल

टीम की खूबियां

टीम में सितारा खिलाड़ियों के लौटने से भी बाकि खिलाड़ियों का मनोबल बड़ा है। टीम के पास क्रिस गेले, अन्द्र रसल, कार्लोस ब्रैथवेट और शिमरॉन हेटमायर जैसे शानदार बल्लेबाज है जो किसी भी परिस्तिथी में बल्लेबाजी कर के टीम को जित दिला सकते है। इसके आलावा टीम के कप्तान जैसन होल्डर और गेब्रियल ने भी अपनी गेंदबाजी से काफी प्रभावित किया है।

टीम की कमजोरियां

विंडीज की टीम में कई आक्रामक बल्लेबाज है जिस कारण इस टीम को काफी परेशानियाँ झेलनी पड़ी है क्योंकि एक दिवसीय मैच में बल्लेबाज को संभलकर और डटकर खेलना होता है। परन्तु कई बार देखा गया है की टीम के बल्लेबाज बड़े शॉट खेलने के कारण कई बार अपना विकेट जल्दी खो देते है।

  • इंग्लैंड

सिरतारों से भरी ये टीम विश्व कप की प्रबल दावेदार मानी जा रही है। इंग्लिश टीम ने अपनी प्रारंभिक टीम की घोषणा 17 अप्रैल को ही कर दी थी। मॉर्गन को कप्तान और जोस बटलर को विकेट-कीपर बनाया गया है। गौरतलबहै कि इस बार विश्व कप की मेजबानी अंग्रेज कर रहे है।

कुछ ऐसी है टीम

मॉर्गन(कप्तान), जैसन रॉय, जोई रुट, अलेक्स हेल्स, बेन स्टोक्स, मोईन अली, क्रिस वॉक्स, डेनली, टॉम करन, डेविड विलय, जॉनी बेयरस्टो, जोस बटलर(विकेट-कीपर), आदिल रशीद, मार्क वुड और लाइम पुलकित।

टीम की खूबियां

मेजबानी होने के कारण इंग्लिश टीम को पहले ही अपने ग्राउंड पर खेलने का फायदा है। इसके साथ-साथ इंग्लिश टीम की बल्लेबाजी में भी काफी गहराई है। इंग्लिश टीम की प्रारंभिक टीम में सिर्फ तीन ही ऐसे खिलाड़ी है जिनकी बल्लेबाजी कमजोर मानी जाती है। टीम के बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो का आईपीएल भी काफी अच्छा गया है। जॉनी आईपीएल 2019 में अभी तक सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी है।

टीम की कमजोरियां

आईपीएल से ठीक पहले विंडीज के खिलाफ हुई सीरीज में इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने अंतिम मैच में काफी ख़राब बल्लेबाजी कि जिसके कारण इंग्लिश टीम को गेंद के आधार पर अपनी सबसे बड़ी हार झेलनी परी थी। इस हार के कारण इंग्लिश टीम का काफी मनोबल गिरा था। इसके आलावा टीम के ओपनर बल्लेबाज अलेक्स हेल्स पर भी अभी ड्रग का सेवन करने के कारण 21 दिन का बैन लग गया है।

  • बांग्लादेश

भले ही आज तक वर्ल्ड कप नही जीत सकी है पर बुलंद है हौसले। आपको बता दे की बांग्लादेश ने अपनी 15 सदस्य टीम कि 16 अप्रैल को घोषना की थी। इस बार मशरफे मुर्तजा को कप्तान, शाकिब अल हसन को उप-कप्तान और मुश्फिकुर रहीम को विकेट-कीपर बनाया गया है।

कुछ इस प्रकार है टीम

तमिन इकबाल, सौम्या सरकार, सब्बीर रहमान, ,शाकिब अल हसन, महमुदुल्लाह, मेहंदी हसन, हुस्सैन, मोहम्मद सैफुद्दीन, मोहम्मद मिथुन, लिथन दास, मुश्फिकुर रहीम(विकेट-कीपर), मशरफे मुर्तजा, रुबेल हुसैन, मुस्ताफिज़ुर रहमान और अबू जायेद।

टीम की खूबियां

टीम में सौम्या सरकार, तमिन इकलाब और मुश्फिकुर रहमान जैसे अच्छे बल्लेबाज मौजूद है। इसके अलावा टीम में शाकिब अल हसन मौजूद है जिनका नाम क्रिकेट जगत के सर्वश्रेष्ठ आल-राउंडर्स में आता है। बांग्लादेशी टीम में मेहंदी हसन और मुस्ताफ़िज़ुर रहमान भी मौजूद है, मेहंदी की फिरकी और रहमान कि यॉर्कर के सामने तो दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज भी पस्त हो जाते है।

टीम की कमजोरियां

बांग्लादेशी टीम की गेंदबाजी बाकी टीमों के सामने काफी कमजोर दिखाई दे रही है, मुस्ताफ़िज़ुर रहमान, कप्तान मुर्तजा और मेहंदी हसन के अलावा टीम में कोई भी प्रमुख गेंदबाज नही है। बांग्लादेश ने अपनी टीम में एक ऐसे खिलाड़ी(अबू जायेद) को शामिल किया है जिसने आज तक एक भी एक दिवसीय अंतर-राष्ट्रीय मुकाबला नही खेला है।

  • अफगानिस्तान

भले ही बड़ी-बड़ी टीमों को हराने की क्षमता रखने वाली ये टीम, रैंकिंग में नीचे चल रही है लेकिन इस टीम के हौसले अभी भी बुलंद है। गौरतलब है कि अफगानिस्तान ने वर्ल्ड कप के लिए सीधे क्वालीफाई नही किया था, टीम को वर्ल्ड कप खेलने के लिए क्वालीफायर राउंड से गुजरना पड़ा था। अफगानिस्तान क्रिकेट टीम ने क्वालीफायर टूर्नामेंट के फाइनल में विंडीज को हराकर इस मेगा इवेंट के लिए क्वालीफाई किया था।

टीम की खूबियां

अफगानिस्तान की टीम के पास दुनिया का सबसे अच्छा स्पिनर्स है- रशीद खान और मुजीब ऊर रहमान। ये दोनों खिलाड़ियों ने अपनी फिरकी से दुनिया में होने वाली सभी लीग्स में अपना जादू दिखाया है। टीम के पास मोहम्मद नबी जैसा अच्छा आल-राउंडर भी है। इसके अलावा टीम में मोहम्मद शहज़ाद और असग़र अफ़ग़ान जैसे अच्छे बल्लेबाज भी है।

टीम की कमजोरियां

अफगानी बल्लेबाज अपना फॉर्म बरकरार नहीं रख पाते है। इस बार अफगानिस्तान की टीमों को एक अच्छे तेज गेंदबाज की कमी भी खिलेगी। इसके अलावा मिडिल आर्डर का अच्छा सपोर्ट भी नही मिल पता है, टीम में कोई भी फिट विकेटकीपर नही है मोहम्मद शहज़ाद ही एक मात्र कीपर है और वो भी फिट नही है।

कुछ इस प्रकार है टीम

नूर अली, हज़रातुलाः, असगर अफगान, शहीदी, जादरान, रहमत शाह, शेनवारी, गुलबदीन नायब(कप्तान), मोहम्मद नबी, मोहम्मद शहज़ाद, रशीद खान, दवलत जादरान, आफताब असलम, हामिद हस्सान और मुजीब उल रहमान

  • न्यूज़ीलैण्ड

इस बार टीम से उम्मीदें जताई जा रही है। पिछली बार उपविजेता रही न्यूज़ीलैण्ड ने अपनी 15 सदस्यीय टीम की घोषणा 2 अप्रैल को की थी। केन विलियम्सन को कप्तान और टॉम ब्लंडेल को विकेट-कीपर बनाया गया है।

कुछ इस प्रकार है टीम

रॉस टेलर, मार्टिन गुप्टिल, केन विलियम्सन(कप्तान), कोलिन डी ग्रैंडहोम, कोलिन मुनरो, जेम्स नीशाम, मिचेल सेंटनेर, टॉम लाथम, टॉम ब्लंडेल(विकेट-कीपर), हेनरी निकोलस, ईश सोढ़ी, मैट हेनरी, लौकी फर्गुसन, ट्रेंट बोल्ट और साउथी।

टीम की खूबियां

टीम के पास रॉस टेलर, कप्तान केन विलियम्सन और मार्टिन गुप्टिल जैसे अनुभवी बल्लेबाज भी है। मार्टिन गुप्टिल उन चुनिंदा बल्लेबाजों में शामिल है जिन्होंने एक दिवसीय अंतर-राष्ट्रीय मैच में दोहरा शतक मारा है। भारतीय मूल के ईश सोढ़ी और मिचेल सेंटनेर की गेंदबाजी ने भी काफी प्रभावित किया है। इसके आलावा न्यूज़ीलैण्ड की टीम में कोलिन डी ग्रैंडहोम, कोलिन मुनरो और जेम्स नीशाम जैसे शानदार आल-राउंडर्स भी शामिल है।

टीम की कमजोरियां

न्यूज़ीलैण्ड की टीम के लिए सबसे चिंताजनक बात है साउथी का ख़राब फॉर्म। टीम के प्रमुख गेंदबाज का आईपीएल में इतना ख़राब परफॉरमेंस टीम के लिए काफी चिंताजनक बना हुआ है। अगर विश्व कप में भी साउथी अपने इसी फॉर्म के साथ खेले तो फिर न्यूज़ीलैण्ड को काफी मुश्किलें झेलनी हो सकती है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com