मैं 25 साल के करियर में सभी तरह के रोल कर चुका हूं – मनोज बाजपेयी

बॉलीवुड एक्टर मनोज बाजपेयी और साउथ की एक्ट्रेस प्रिया मणि ने अपना डिजिटल डेब्यू कर लिया है 20 सितंबर को इनकी वेब सीरिज द फैमिली मैन की स्ट्रीमिंग हो रही है।

0
103
manoj1

मुंबई : (ऋचा मिश्रा तिवारी) बॉलीवुड एक्टर मनोज बाजपेयी और साउथ की एक्ट्रेस प्रिया मणि ने अपना डिजिटल डेब्यू कर लिया है। 20 सितंबर को इनकी वेब सीरिज द फैमिली मैन की स्ट्रीमिंग हो रही है। सीरिज में मनोज बाजपेयी एक एनआईए के ऑफिसर का किरदार निभा रहे हैं, जबकि प्रियामणि उनकी पत्नी का किरदार निभाते हुए नजर आएंगी। ये वेब सीरिज अमेजन प्राइम वीडियो पर स्ट्रीम होगी। द फैमिली मैन में एनआईए अफसर का किरदार निभा रहे मनोज बाजपेयी ने घमासान डॉट कॉम बातचीत में अपनी वेब सीरिज के बारे में बताया

अचानक आप डिजिटल पर आने का कारण
डिजिटल एक ऐसा मीडियम है जो आज तो बढ़ ही रहा है। कल बहुत बढ़ा होगा। कल आपको कई सारे एक्टर कहीं और नहीं डिजिटल पर ही दिखाई देंगे। मुझे लगा कि डिजिटल का पार्ट हुआ जाए लेकिन एक सही समय पर और वो में ढूंढ रहा था, इंतजार कर रहा था कि कौन देगा। क्योंकि जो ऑफर आ रहे थे वो कमाल के नहीं थे और जम नहीं रहा था। जो कमाल के होते भी थे, तो उसमें कुछ नया नहीं लग रहा था। जब ये प्रोजेक्ट आया, तो मैंने तुरंत हां कर दिया था। उसके बाद से हम लोग काम पर लग गए।

manoj6

डिजिटल के आने से थियेटर को कोई खतरा ?
कोई खतरा नहीं है। यह एक मीडियम है। एक बार जो मीडियम बन गया है, तो उस पर काम होता रहेगा। अब अच्छी बात ये होगी कि एक्टर हर जगह दिखेंगे। वो ये भी करते दिखेंगे, थियेटर करते भी दिखेंगे, वो सिनेमा करते भी दिखेंगे। अब कोई ये नहीं कहेगा की ये टीवी का एक्टर है या सिनेमा। लोग कहेंगे कि ये एक्टर हर जगह दिखता है।

द फैमिली मैन वेब सीरीज में आपके रोल के बारे में बताए
श्रीकांत तिवारी इसका नाम है। बनारस का रहने वाला है। श्रीकांत तिवारी बहुत ही शार्प आदमी है। इंटेलीजेंट आदमी है। पढ़ाई लिखाई में अच्छा रहा है। यह अपने दोस्तों का, प्रिंसिपल का सबका चहेता होता है। सारे लोगों के विचार के विपरीत जाकर काम चुनता है। एनआईए में जाने का। यहां पर टास्क उसका नाम है। इसकी शादी लव मैरेज है। बनारस का आदमी है, वह साउथ की रहने वाली लड़की है, जो मुंबई के माटुंगा में रहने रहती है। तो बहुत ही कल्चरल डिफ्रेंस है। ये बहुत ही परिवार वाला आदमी है। ईमानदारी से परिवार के साथ रहना चाहता है। लेकिन उसका जॉब इतना ज्यादा डिमांडिंग है कि परिवार उससे छूटता जाता है।

परिवार को संभालने के चक्कर परिवार हाथ से चला जाता है। बहुत ही गालियां खाता है। अपने बच्चों के साथ उसका बहुत ही दोस्ताना व्यवहार है। बच्चे उसे कुछ भी कहकर निकल लेते हैं। बच्चें उसके करीब भी हैं और नहीं भी हैं। दोनों ही चीजें हैं। बच्चों को इस पर शक भी होता है और विश्वास भी होता है। पत्नी के साथ भी ऐसा संबंध है। बीबी को समझ नहीं आता है कि उस आदमी पर विश्वास करुं या नहीं। अपने काम लेकर ज्यादा बहुत प्रोफेशनल है। रेस्पक्टेड है। दो अलग-अलग पर्सेनेलिटी है।

किस तरह के किरदार करने में आपको मजा आता है
गैंगस्टर के रोल भी किए हैं। मुझे लगता है कि मैं 25 साल के करियर में सभी तरह के प्रोफेशन निभा चुका हूं। लेकिन रोल निभाने के लिए प्रोफेशन मायने नहीं रखता है।

परिवार को कितना टाइम दे पाते हैं
हां! मुझे पता है कि मेरी प्राथमिकता क्या है। प्राथमिकता एक ऐसी चीज है, जिस पर आप ध्यान देंगे तो कभी प्रोब्लम नहीं होगी, तो मैं प्राथमिकताएं बनाता हूं। अगर इस समय मेरी फैमिली प्राथमिकता है, तो मैं उसमें कोई काम नहीं करता और वो डेट्स ही नहीं देता हूं। तो ज्यादातार मैं बच जाता हूं गालियां खाने से (हंसते हुए)।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here