अरे भाई… ये पप्पू आखिर नाराज किससे हैं..?

0
41
rahul gandhi

सन्नीपात में पड़ी कांग्रेस को योग्य अध्यक्ष की तलाश है… घूम-फिरकर सारे कांग्रेसी राहुल की मान-मनोव्वल में लगे हैं कि भिया मान जाओ…अपने मुख्यमंत्री कमलनाथ भी अन्य मुख्यमंत्रियों को भेला कर राहुल बाबा से मिलने पहुंचे और दो घंटे की बैठक के बाद भी पप्पू इस्तीफे पर अड़े रहे… होना तो यह था कि चुनाव में करारी शिकस्त के बाद अधिक ताकत से राहुल और प्रियंका को मैदान पकडना था… लेकिन दोनों भाई-बहन पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से लेकर कार्यकर्ताओं पर हार का ठीकरा फोड़ रहे हैं… मुझे तो यही समझ में नहीं आता कि राहुल आखिर नाराज किससे और क्यों हैं..?

अरे भाई, आप खुद पार्टी आलाकमान हो, आपकी माताजी चेयरपर्सन और आपकी बहन को स्टार प्रचारक बनाकर उत्तरप्रदेश की जिम्मेदारी दी गई…जब सारे फैसले आप और आपके परिवार ने मनमुताबिक ही लिए तो अब तकलीफ क्या है..? अशोक गहलोत और कमलनाथ पर यह कहते हुए कपड़े फाडऩा कि उन्होंने अपने बेटों को टिकट दिलवाने और जिताने में अधिक मेहनत की, जिससे पार्टी को नुकसान उठाना पड़ा… अब पप्पू इस बात का जवाब दें कि ये दोनों टिकट दी किसने..?

अध्यक्ष होने के नाते आपके ही अनुमोदन के बाद उम्मीदवारों की सूची जारी होती है और मुख्यमंत्री भी आपने ही अपनी पसंद से बनाए…पूरे चुनाव प्रचार की बागडोर भी आप भाई-बहन ने उठाई और सारे फैसले 10, जनपथ से ही होते रहे, तो अब रूठने और इस्तीफे की नौटंकी का औचित्य क्या..? फिलहाल कांग्रेस में सारे कामकाज ठप पड़े हैं और मुख्यमंत्रियों को भी निर्णय लेने में दिक्कत हो रही है… हकीकत यह भी है कि गांधी परिवार के अलावा कोई और अध्यक्ष बन भी नहीं सकता ,ऐसा होने पर रही-सही कांग्रेस भी बिखर जाएगी.. पता नहीं कौन-से मुगालते और जमाने में जी रहा है गांधी परिवार..?

@ राजेश ज्वेल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here