Breaking News

चार साल बाद थाने से बाहर आए ​हनुमान जी| After four years, Hanuman ji came out police station

Posted on: 25 Oct 2018 17:55 by Rakesh Saini
चार साल बाद थाने से बाहर आए ​हनुमान जी| After four years, Hanuman ji came out police station

आगरा यूपी से एक विचलित करने वाली खबर सामने आ रही है यह पर कही दिनों से एक हनुमान जी की मूर्ति की तस्वीर वायरल हो रही है  जिसमे हनुमान जी को थाने में बंद होना बताया जा रहा है.  जहां पर  हनुमान जी को छुडवाने के लिए लोग काफी मेहनत कर रहे है  दरअसल मामला थाना न्यू आगरा का है जहां 2014 में हंगामें की घटना होने के बाद हनुमान जी की मूर्ति को उठाकर थाने में बंद कर दी थी। यह हनुमान जी की मूर्ति थाने के मालखाने में बंद थी।

​हालांकि मामला यही नहीं रूका और हनुमान जी को आजाद कराने के लिए संगठन के लोगों और पुलिस में खुब तकरार चली वहीं हनुमान जी को थाने से आजाद कराने के​ लिए संगठन के लोग थानेदार के दफ्तर में भी घुस गए और हंगामा करने लगे जिसके बाद इसे एक  पेड़ के नीचे ये ही हनुमान जी की वो मूर्ति जो पिछले चार साल से थाना न्यू आगरा के मालखाने में बंद है। हालांकि हंगामे के बाद मूर्ति को अब बाहर रख दिया गया है. संगठन की मांग पर मूर्ति की पूजा-अर्चना भी हो रही है. मूर्ति को थाने में बने एक मंदिर में ही जगह दी गई है. लेकिन संगठन से जुड़े लोग इतने पर मानने को तैयार नहीं हैं और मूर्ति को आज़ाद करने की मांग कर रहे हैं..

हनुमान जी की मूर्ति पर पुलिस ने केस से संबंधित धाराएं भी लिख दी हैं. मूर्ति पर धारा 147 बलवा करने की धारा, 153ए माहौल बिगाड़ने की कोशिश करना और अव्यवस्था फैलाने की कोशिश करने की धारा 124 लिखी गई है। कानून के जानकारों का कहना है कि इन धाराओं में 2 साल से लेकर आजीवन कारावास तक की सजा होती है. हनुमान जी की मूर्ति पर पुलिस ने केस से संबंधित धाराएं भी लिख दी हैं. मूर्ति पर धारा 147 बलवा करने की धारा, 153ए माहौल बिगाड़ने की कोशिश करना और अव्यवस्था फैलाने की कोशिश करने की धारा 124 लिखी गई है. कानून के जानकारों का कहना है कि इन धाराओं में 2 साल से लेकर आजीवन कारावास तक की सजा होती है।

मूर्ति को लेकर कोई अन्य घटना न हो जाए या फिर कोई शरारती तत्व मूर्ति को नुकसान न पहुंचा जाए इसके लिए हनुमान जी की सुरक्षा में एक गनमैन तैनात किया गया है. दिन-रात एक गनमैन हनुमान जी की सुरक्षा करता है. लेकिन खास बात ये है कि हनुमान जी को थाने में बने इस मंदिर के मुख्य स्थान में जगह नहीं दी गई है जहां हनुमान जी की दूसरी बड़ी मूर्ति लगी है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com