GST : कारोबारियों के लिये ऑफलाइन एप हुआ लांच

0
7

नई दिल्ली। जी.एस.टी. से कारोबारियों को अब राहत मिलने वाली है जी.एस.टी. का काम अब आसान हो जायेगा  जी.एस.टी. ने  इनपुट और कैपिटल गुड्स का पूरा ब्‍यौरा ऑफलाइन भरने के लिए एक नया टूल लांच किया है, जिसके जरिए कारोबारी पूरा ब्‍यौरा ऑफलाइन भर सकेंगे।

मतलब है कि सभी कारोबारियों को जॉब वर्कर्स को भेजे गए कैपिटल गुड्स और उनसे वापस मिले सामान का ब्‍यौरा देना होता है, इसके लिए जीएसटीएन  ने एक एक्‍सल आधारित ऑफलाइन टूल पेश किया है। इसे फॉर्म जीएसटी आईटीसी-04 में स्‍टेटमेंट अपलोड करने के लिए यूज किया जा सकेगा। GST के रूल 45 के मुताबिक, जॉब वर्कर को भेजे जाने वाले और उनसे प्राप्त होने वाले इनपुट्स या कैपिटल गुड्स की जानकारी को तिमाही आधार पर ITC-04 में मुहैया कराना जरूरी है।

गलतियां होने की गुंजाइश है कम
GST के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर प्रकाश कुमार ने कहा कि सभी डिटेल्स को ऑफलाइन मोड में एड किया जा सकता है और उसके बाद GST पोर्टल पर अपलोड कर जुलाई-सितंबर 2017 तिमाही के लिए फॉर्म को पूरा किया जा सकता है। चूंकि यह एक ऑफलाइन टूल है, इसलिए डिटेल्स भरने के लिए इंटरनेट कनेक्शन की जरूरत नहीं पड़ेगी। फाइल के अपलोड होने के बाद सिस्टम अपलोड हुए डाटा का संक्षिप्त विवरण दर्शाएगा। डाटा फाइलिंग की प्रोसेस पूरी होने के लिए कारोबारी के डिजिटल साइन या इलेक्ट्रॉनिक वेरिफिकेशन कोड (EVC) के जरिए वेरिफिकेशन की जरूरत होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here