सूरत में 2,252 पैरेंट्स के खिलाफ कार्रवाई करेगी सरकार

0
11

गुजरात: ‘शिक्षा का अधिकार’ कानून के तहत अपने बच्चो को मुफ्त और अनिवार्य शिक्षा दिलाने के लिए पेरेंट्स फर्जी डाक्यूमेंट्स देने से भी नहीं डरते। ऐसा ही एक मामला गुजरात के सूरत से सामने आया है। इस मामले में जिला शिक्षा अधिकारी 2252 पेरेंट्स के खिलाफ कार्यवाई करने की तैयारी में है।Image result for स्कूल स्टूडेंट्स

via

दरअसल, यहां ‘शिक्षा का अधिकार’ कानून के तहत अपने बच्चो को दाखिला करवाने के लिए फर्जी आय प्रमाण पत्र जमा करवाए थे। बताया जा रहा है कि इस कानून के तहत सूरत के विभिन्न क्षेत्रो से करीब 9,410 आवेदन आए है, इनमे से  2,252 आवेदकों ने तहसीलदार की मुहर के साथ फर्जी आय प्रमाण दस्तावेज जमा करवाए हैं।Image result for स्कूल स्टूडेंट्स

via

सूरत के  प्रधान अधिकारी बीएस पटेल ने कहा कि 2,252 नकली आय प्रमाण पत्र में से 1000 प्रमाण पत्र केवल शहर के पूना क्षेत्र के हैं। उन्होंने बताया कि हमने जांच में पाया कि इस रैकेट में कुछ दलाल भी शामिल है।Image result for स्कूल स्टूडेंट्स

via

सूरत के जिला शिक्षा अधिकारी यूएन राठौड़ ने कहा, हम जिला अधिकारी के आदेशानुसार कार्रवाई करेंगे और पैरेंट्स के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए केस दर्ज करेंगे।

cover image source

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here