Breaking News

तांत्रिकों के फर्जी विज्ञापनों पर सरकार रोक क्यों नहीं लगाती, इन विज्ञापनों की आड़ में लोगों को ठग रहे हैं तांत्रिक

Posted on: 26 Jun 2018 05:50 by Ravindra Singh Rana
तांत्रिकों के फर्जी विज्ञापनों पर सरकार रोक क्यों नहीं लगाती, इन विज्ञापनों की आड़ में लोगों को ठग रहे हैं तांत्रिक

महिलाओं से दुष्कर्म और छेड़छाड़ के मामले में गिरफ्तार किए गए कथित तांत्रिक त्रिलोकीनाथ उर्फ करनैल सिंह के कारनामे सामने आने के बाद अब यह सवाल उठ रहा है की सरकार और पुलिस तांत्रिकों के फर्जी विज्ञापनों पर रोक क्यों नहीं लगाती।

आए दिन इन फर्जी तांत्रिकों के विज्ञापन दैनिक अखबारों में प्रकाशित होते हैं और जिसमें बड़े-बड़े दावे भी किए जाते हैं सवाल इस बात का है कि यह विज्ञापन किस तरह से गैरकानूनी ढंग से प्रकाशित किए जा रहे हैं इन विज्ञापनों के कारण ही भोली भाली जनता और खासकर परेशान महिलाएं तांत्रिकों के पास जाती है और वहां तांत्रिकों के बलात्कार का शिकार होती हैं त्रिलोकीनाथ ने भी अपना मायाजाल विज्ञापनों के माध्यम से ही फैलाया था और महालक्ष्मी नगर का उसका बंगला अय्याशी और धोखाधड़ी का केंद्र बन गया था।

Image result for तांत्रिकों के फर्जी विज्ञापनों

Via

त्रिलोकीनाथ के खिलाफ अभी तो 3 महिलाओं ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है लेकिन पुलिस को यह आशंका है कि उसने अनेक महिलाओं के साथ गलत व्यवहार किया है शर्मनाक बात तो यह भी है कि उसने नशीला पदार्थ खिलाकर जिस महिला के साथ दुष्कर्म किया उस समय के अश्लील फोटो उसके बेटे छुटकी नाथ ने खींचे और बाद में महिला को लगातार ब्लैकमेल किया गया ।

इससे पहले भी इंदौर में तांत्रिकों द्वारा महिलाओं की अस्मत लूटने के कई मामले सामने आ चुके हैं अब जरूरत इस बात की है कि इन तांत्रिकों के और धोखाधड़ी करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के साथ ही इनके विज्ञापनों पर भी रोक लगाई जाए।

अथर्व राठौर की कलम से 

cover images source

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com