फेक न्यूज से टेंशन में आया Google, फर्जी विज्ञापनों पर भी लेगा ये एक्शन

0
43

नई दिल्ली: गूगल ने राजनीतिक विज्ञापनों के मामले में अब सख्त बना गया है. मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए फेक न्यूज़ का ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है. गूगल पहले से ही इसी तरह के प्लेटफ़ॉर्म से बहुत दबाव में हैं.

गूगल ने कहा कि उनके नियमों ने पहले ही किसी भी विज्ञापनदाता को ऑनलाइन गलत जानकारी देने से बैन कर दिया है, जिसमें राजनीतिक संदेशों वाले विज्ञापन शामिल हैं. लेकिन गूगल अपनी नीति को और भी सख्त कर रही है और ऐसे उदाहरणों को शामिल कर रही है कि छेड़छाड़ की गई तस्वीरों या वीडियो को किस प्रकार प्रतिबंधित किया जाए.

बता दें कि गूगल के विज्ञापन उत्पाद प्रबंधन के उपाध्यक्ष स्कॉट स्पेंसर ने एक ऑनलाइन पोस्ट में कहा कि “बेशक, हम पहचानते हैं कि मजबूत राजनीतिक संवाद लोकतंत्र का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, और कोई भी समझदारी से हर राजनीतिक दावे, प्रतिशोध और अपमान को स्वीकार नहीं कर सकता है. इसलिए हम उम्मीद करते हैं कि जिन राजनीतिक विज्ञापनों पर हम कार्रवाई करेंगे, उनकी संख्या बहुत सीमित होगी.”

एमनेस्टी ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि “सेवाओं के वास्तविक मूल्यों के बावजूद निगरानी करने वाले दिग्गज गूगल और फेसबुक प्लेटफार्म का एक पूरे तंत्र से जुड़ा खर्च है.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here