आईपीएस का स्वर्णिम सफर, छात्रों के लिए बेहतर अवसर

0
8

इंदौर। मध्य प्रदेश की वाणिज्यिक राजधानी इंदौर शिक्षा के केंद्र के रूप में उभरने के बाद अब स्मार्ट शहर बनने के रास्ते पर जा रहा है। शहर की विकास यात्रा के साथ ही आईपीएस अकादमी भी कदमताल कर रहा है। 71 पाठ्यक्रमों के साथ आज ये मध्यप्रदेश के सबसे बड़े शैक्षणिक हब-परिसर में शुमार है, जहां तकनीकी शिक्षा, अनुसंधान, विकास और उद्योग की जरूरत के अनुरूप छात्रों को तैयार किया जा रहा है। आईपीएस आज विशाल ब्रह्मांड के रूप में शैक्षणिक जगत में भव्यता के साथ चमक रहा है।ips

स्कूल ऑफ आर्किटेक्चर, आईपीएस अकादमी अग्रणी संस्थान है, जो अगले साल 25वें गौरवशाली वर्ष को पूरा करने जा रहा है। संस्थान अपने पूरे कार्यकाल में ज्ञान, कौशल और मूल्यों के सिद्धांत पर काम करता रहा। यही कारण है कि यहां वास्तुकला, योजनाकार, शिक्षाविदों और वास्तुकला के छात्रों के अभ्यास के लिए विशेष कार्यक्रम, संगोष्ठियां और कार्यशालाओं का आयोजन भी किया जाता रहा।ips1

संस्थान में समय के साथ-साथ विभिन्न कोर्स भी बढ़ाए गए। मौजूदा समय में आर्किटेक्चर, बिजनेस मैनेजमेंट, कॉमर्स, कम्प्यूटर, फैशन टैक्नालॉजी, फाइन आर्ट, होटल मैनेजमेंट, फार्मेसी, ट्रेवल, टूरिज्म और जर्नलिज्म सहित अनेक कोर्स सफलतापूर्व संचालित किए जा रहे हैं।ips2

इसके अलावा आईपीएस के अकादमिक परिसर में स्थित लाइब्रेरी आईपीएस की सभी अकादमिक गतिविधियों का केंद्र है और किताबों, पत्रिकाओं, रिपोर्टों, ई-पत्रिका / ऑनलाइन डेटाबेस, ई-किताबें, इलेक्ट्रॉनिक सिद्धांतों और व्यापक सेवाओं तक व्यापक पहुंच प्रदान करता है।ips 3

रोजगार के लिए प्रशिक्षण की खास सेवा
यहां छात्रों को न केवल कॉर्पोरेट प्लेसमेंट बल्कि बैंकिंग, बीमा, सरकार और अर्ध सरकारी क्षेत्रों में रोजगार के लिए अनूठा अवसर भी प्रदान किया जाता है, जो अन्य किसी संस्थान में शायद ही होता है। ट्रेनिंग और डेवलपमेंट के लिए कॉलेज छूटने के बाद विशेषज्ञों द्वारा एक बैच अलग लगाई जाती है, जहां छात्रों को न सिर्फ प्रशिक्षित किया जाता है बल्कि सरकारी और गैर सरकारी संगठनों में रोजगार के लिए जानकारी दी जाती है, उनका मार्गदर्शन किया जाता है। छात्रों को आवेदन फॉर्म जमा कराने और तैयारी के लिए फॉर्म डाउनलोड करने से लेकर हर प्रकार से मदद की जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here