भगवान भी होते हैं इस मंदिर में बीमार , जानिए क्या हैं पूरी खबर

0
31
lord sick

हमे छोटी सी भी सेहत से जुडी समस्या होती हैं हम तुरंत ही डाॅक्टर के पास जाते हैं और अपनी सारी परेशानियां उन्हें बता देते हैं। डाॅक्टर भी हमे हमारी बीमारी के मुताबिक दवाई दे देते हैं। यदि हम बीमार हो तो हमारे पास डाॅक्टर हैं जिन्हें भगवान का दूसरा रुप माना जाता हैं लेकिन यदि भगवान ही बीमार हो जाए तो क्या किया जाना चाहिए। जी हां हमारे आज की इस पोस्ट में हम आपको यही बता रहे हैं कि कैसे एक मंदिर में भगवान ही बीमार हो गए थे।

रामपुरा स्थित भगवान जगदीश को 108 मटके पंचामृत से अभिषेक किया गया था और उसके साथ ही उन्हें 200 किलों आम रस का भोग भी लगाया गया था। जिसके कारण भगवान जगदीश की तबियत बिगड़ गई थी। इसके बाद 15 दिन तक भगवान का इलाज चला था। जिसके बाद भगवान की तबियत में सुधार आया था।

भगवान के बीमार होने के बाद से ही 15 दिनों तक उनका रोजाना हेल्थ चैक अप भी कराया गया और उन्हें 15 दिनों का कम्पलीट बैड रेस्ट दे दिया गया। इस दौरान मंदिर के पट को बंद रखा गया था। मंदिर के ही पुजारियों का कहना हैं कि पूर्णिमा पर भगवान का अभिषेक और भोग लगाने के बाद वे बीमार हो जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here