सावन में भगवान शिव को चढ़ाएं ये चीज, दूर होगी गरीबी

0
91
shiv

नई दिल्ली: जीवन में किसी तरह की मुसीबत या दुःख होता है तो लोग उसके समाधान के लिए भगवान के आगे मत्था टेकने जाते हैं,और सबसे चमत्कारिक बात यह है कि लोगों की परेशानियाँ ख़त्म भी हो जाती हैं। यही वजह है कि लोगों का विश्वास देवी-देवताओं में और बढ़ता ही जा रहा है।

भगवान शंकर की पूजा सबसे ज्यादा की जाती है। भारत के हर प्रान्त में भगवान शंकर के मंदिर देखने को मिल जायेंगे। भगवान शंकर की महिमा के बारे में किसी को कुछ बतानें की जरुरत नहीं है। भगवान शंकर इतने दयालु हैं कि अपने भक्त ही हर मनोकामना को तुरंत ही पूरा कर देते हैं।

भगवान शंकर को प्रसन्न करने के लिए व्यक्ति को बहुत ज्यादा चढ़ावा चढानें की भी जरुरत नहीं पड़ती है। भगवान शंकर को मात्र धतूरे से भी प्रसन्न किया जा सकता है। शिवपुराण में वर्णन मिलता है कि भगवान शंकर की पूजा में फूल-पत्तियों का विशेष महत्व है।

प्रतिदिन शिवमंदिर जाकर तांबे के लोटे में गंगाजल या पवित्र जल भरकर ले जाएं। उसमें चावल और सफ़ेद चन्दन मिलाकर शिवलिंग पर “ॐ नमः शिवाय” बोलते हुए अर्पित कर दें। साधारण तौर पर शिवलिंग पर बेलपत्र सभी लोग चढ़ाते हैं, लेकिन इसके साथ ही शमी का पत्र भी भगवान शंकर को चढ़ाना लाभदायक होता है।

शमी का पत्र शिवलिंग पर चढ़ाने से धन और सौभाग्य में वृद्धि होती है। जल चढ़ाने के उपरांत भगवान शिव को चावल, बेलपत्र, सफ़ेद वस्त्र, जनेऊ और मिठाई के साथ शमी का पत्र भी चढ़ाएं। शमी के पत्र चढ़ाते समय सच्चे मन से भगवंत की प्रार्थना करे। इसके बाद भगवान शिव की धूप दीप कर्पूर से आरती करें और प्रसाद ग्रहण करें।

भगवान शंकर को प्रसन्न करने के कुछ अन्य उपाय

  • शिवलिंग पर चाँदी के लोटे से दूध चढ़ाना बहुत ही फलदायी होता है। दूध चढ़ाते समय “ॐ सोम सोमाय नमः” मंत्र का जाप 108 बार करना चाहिए।
  • हर रोज सूर्यास्त के बाद शिवलिंग के पास शुद्ध देसी घी का दीपक जलाएं। दीपक जलाते समय इस बात का ध्यान रखें कि दीपक मिट्टी का ही होना चाहिए।
  • भगवान शिव की कृपा हमेशा बनाये रखने के लिए गले में रुद्राक्ष की माला धारण करें।
  • माना जाता है कि शिवलिंग पर धतुरा चढ़ाने से व्यक्ति को नकारात्मक विचारों से मुक्ति मिलती है।
  • वैवाहिक जीवन में आने वाली परेशानियों को दूर करना हो तो भगवान शंकर के साथ ही माता पार्वती की भी पूजा करें। सभी उपाय करने के साथ एक बात का खासतौर पर ध्यान रखें कि कभी किसी का बुरा ना करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here