गणगौर तीज आज, अखंड सौभाग्य के लिए महिलाएं रखेगी व्रत..

0
121

नई दिल्ली : देशभर में इन दिनों नवदुर्गा के साथ-साथ गणगौर की भी धूम मची हुई है। बता दे कि आज मंगलवार को गणगौर पर्व का पवित्र समापन यानी गणगौर तीज है। यह गणगौर तीज व्रत चैत्र शुक्ल तृतीया पर राजस्थान, उ‍त्तरप्रदेश, हरियाणा व मध्यप्रदेश के निमाड़ अंचल में विशेष रूप से मनाया जाता है। इसे गौरी तृतीया भी कहते हैं। Related imageयह व्रत होली के दूसरे दिन से आरंभ होता है और गुड़ी पड़वा के अगले दिन इसका समापन होता है। इस वर्ष यह 2 मार्च से आरंभ हुआ और 20 मार्च को यह संपन्न होने जा रहा है। Related imageचैत्र कृष्ण प्रतिपदा यानी होली के दूसरे दिन से अखंड सौभाग्य की कामना से कुंवारी, विवाहिताएं और नवविवाहिताएं सुहागिन प्रतिदिन गणगौर पूजती हैं और चैत्र शुक्ल द्वितीया यानी गुड़ी पड़वा के अगले दिन (सिंजारे) किसी नदी, तालाब या शुद्ध स्वच्छ शीतल सरोवर पर जाकर अपनी पूजी हुई गणगौर को जल पिलाती हैं।Related imageदूसरे दिन शाम को बिदा के सुंदर व मार्मिक लोकगीतों के साथ उनका विसर्जन होता है। यह व्रत विवाहित महिलाएं पति से सात जन्मों का साथ, स्नेह, सम्मान और सौभाग्य पाने के लिए करती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here