Breaking News

जहां से पढ़ा आज वही अतिथि बनकर खड़ा हूं: जीतू पटवारी

Posted on: 06 Jan 2019 15:31 by Surbhi Bhawsar
जहां से पढ़ा आज वही अतिथि बनकर खड़ा हूं: जीतू पटवारी

मध्यप्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने रविवार को इंदौर के देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के विशेष दीक्षांत समारोह में कहा कि विश्व विद्यालय में अंतरराष्ट्रीय स्तर की पीठ स्थापित होनी चाहिए। मेरे लिए बड़े सौभग्य की बात है कि मैं जिस विश्व विद्यालय का छात्र रहा, जहां आंदोलन किए उसी परिसर में आज अतिथि के रूप में आया हूँ। मैंने यहां ऐसा कोई काम नहीं किया जिससे मुझे आज आत्मग्लानि महसूस हो।

सेमेस्टर सिस्टम खत्म करने के बीती सरकार के निर्णय पर यूजीसी चैयरमैन प्रोफेसर डीपी सिंह ने कहा कि इससे वैश्विक प्रतिस्पर्धा मे पिछड़ने का संकट है। सरकार को इस बारे मे पुनर्विचार करना चाहिए।

अखिलेश बोले, गठबंधन रोकने के लिए CBI का इस्तेमाल कर रही भाजपा

पूर्व विद्यार्थियों के सम्मेलन में वर्तमान विद्यार्थी छाए

विश्वविद्यालय के सभागार में शंख ध्वनि और मंगलाचरण के साथ राज्यपाल की अगुवाई में प्रोसेशन आया। परम्परागत भारतीय परिधान पहने और पगड़ी से सजे गर्वित माथों पर हर्ष की लकीरों के साथ प्रोसेशन में प्राध्यापकगण और मेडल तथा उपाधिधारक विद्यार्थी शामिल हुये।
राज्यपाल श्रीमती पटेल ने अपने उद्बोधन में कहा कि विश्वविद्यालयों में निर्धारित समय पर पढ़ाई, परीक्षा और उसके परीणामों का आना जरूरी है। उन्होंने देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के ऑनलाइन परीक्षा परिणाम प्रणाली का लोकार्पण भी किया। इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि विश्वविद्यालयों और प्राथमिक विद्यालयों के बीच अंर्तसंबंध होना चाहिये। प्राईमरी और मिडिल के बच्चों को विश्वविद्यालय का भ्रमण कराना चाहिये, ताकि उच्च शिक्षा के प्रति उनमें ललक पैदा हो सके। राज्यपाल ने दीक्षांत समारोह में पीएचडी उपाधि प्राप्त विद्यार्थियों से आव्हान किया कि वे अपने शोध को समाज के सामने भी प्रस्तुत करें।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com