पूर्व राष्ट्रपति ने EVM के साथ छेड़छाड़ के आरोपों पर जताई चिंता | Former President expressed concern over the Allegations of tampering with EVM

0
86

देशभर में ईवीएम में गड़बड़ी और इसे बदलने को लेकर लग रहे आरोप-प्रत्यारोप के बीच पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने चिंता जताई है साथ ही चुनाव आयोग को भी नसीहत दी है ।

पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि ‘मैं मतदाताओं के फैसले के साथ कथित छेड़छाड़ की रिपोर्टों को लेकर चिंतित हूं। चुनाव आयोग के कब्जे में मौजूद ईवीएम के बचाव सुरक्षा की जिम्मेदारी आयोग की र्है।’ उन्होने कहा कि ऐसी कोई भी स्थिति पैदा नहीं होना चाहिए जो हमारे लोकतंत्र को चुनौती दे सके।

पूर्व राष्ट्रपति ने संस्थानों पर विश्वास जताते हुए कहा कि यह मेरा विचार है कि यह ‘काम कर रहा हर व्यक्ति’ तय करता है कि संस्था के ‘औजार’ के साथ प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि ‘इस मामले में संस्थागत अखंडता (ईवीएम की सुरक्षा) सुनिश्चित करने का दायित्व चुनाव आयोग के पास है। उन्हें अवश्य करना चाहिए और सभी अटकलों पर विराम लगाना चाहिए।’

बता दें कि इससे पहले पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी ने चुनाव आयोग की तारीफ की थी। उन्होंने कहा कि यदि हम संस्थानों को मजबूत करना चाहते हैं तो तो हमें यह ध्यान रखना चाहिए कि यह संस्थान देश की अच्छी तरह से सेवा कर रहे हैं। अगर लोकतंत्र सफल साबित होता है तो इसके लिए चुनाव आयोग को काफी हद तक जिम्मेदार माना चाहिए। सुकुमार सेन से लेकर मौजूदा चुनाव आयुक्तों ने इस के लिए बहुत काम किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here