Breaking News

पूर्व गृह मंत्री हिम्मत कोठारी ने प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र

Posted on: 19 Jun 2018 17:33 by krishnpal rathore
पूर्व गृह मंत्री हिम्मत कोठारी ने प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र

पूर्व गृह मंत्री एवं राज्य वित्त आयोग अध्यक्ष हिम्मत कोठारी प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र, मेडिकल कालेज समय सीमा में शुरु नहीं होने पर जताई चिंता, गुणवत्ता को लेकर भी सवाल उठाते हुए जांच की मांग की।ने प्रदेश के स्वास्थ मंत्री को पत्र लिखकर इस सत्र से मेडिकल कालेज की कक्षाएं शुरु नहीं होने पर चिंता जाहिर करते हुए इस सबंध में सबंधित ठेकेदार और अधिकारियों से जवाब लेने की मांग की है। श्री कोठारी ने पत्र में मेडिकल कालेज भवन की गुणवत्ता की भी जांच की मांग की है।श्री कोठारी ने स्वास्थ्य मंत्री को लिखे पत्र में मेडिकल कालेज शुरु नहीं हो पाने पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा है कि रतलाम में बन रहे मेडिकल कालेज के लिए विधानसभा वर्ष 2006-07 के बजट में तत्कालीन वित मंत्री द्वारा 25 लाख रुपयें का बजट प्रावधान पीपीपी माडल के लिए हेतु किया गया था ,किन्तु इस मॉडल में सरकार एवं निवेशक के बीच में सहमती नही हो पायी । इसके पश्चात वर्ष 2013 में अटल ज्योति योजना के शुभांरभ अवसर पर रतलाम आए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा रतलाम में शासकीय मेडीकल कालेज को बनाये जाने की घोषणा कि गयी । इसके बाद जन आर्शीवाद रैली कार्यक्रम विधानसभा चुनाव के पूर्व वर्ष 2013 में रतलाम आने पर सीएम द्वारा मेडीकल कालेज की भूमि का पूजन किया गया एवं इस बात की सीएम द्वारा घोषणा की गई कि मेडिकज कालेज को रतलाम वासियों को समय सीमा में पूर्ण कर दिया जावेगा। श्री कोठारी ने कहा कि लेकिन दु:ख की बात है कि तय समय सीमा से भी अधिक समय हो जाने के बाद भी मेडिकल कालेज का निमार्ण कार्य पुर्ण नहीं हुआ और कक्षाएं प्रांरभ नही हो सकी। श्री कोठारी ने कहा कि मेडीकल कालेज हेतु भवन निमार्ण , उपकरण , फनिर्चर , डॉक्टरों , प्रबंधन हेतु अधिकारी कर्मचारियों की नियुक्ति में भी देरी हो रही है , इस कार्य में किन अधिकारीयों द्वारा लापरवाही की गयी उनसे जवाब तलब किया जाकर उच्च सक्षम अधिकारी से समस्त जांच कराई जाए ।
गुणवत्ता की जांच की मांग
श्री कोठारी ने यह बात भी पत्र में लिखी है कि समाचार पत्रों में इस प्रकार खबरें प्रकाशित हुई की मेडिकल कालेज भवन निमार्ण में कस्ट्रक्शन कंपनी गुणवत्ता का ध्यान नही रख रही है एवं जिसकी गुणवत्ता की जाचॅ होना चाहिए ।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com