Breaking News

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने कमाए करोड़ो, खेला दो कोड़ी का भी नहीं

Posted on: 25 May 2018 11:20 by Raj Rathore
ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने कमाए करोड़ो, खेला दो कोड़ी का भी नहीं

नई दिल्ली। आईपीएल का 11वां सीजन अब समाप्त होने को है। आपको बता दे की इंडियन प्रीमियर लीग में अब मात्र दो मुकाबले बचे हैं एक तो क्वालीफ़ायर 2 और फाइनल। गोरतलब है की आज रात मालूम पर जायगा की फाइनल में CSK के सामने फाइनल की रात को कौन खेलेगा (SRH/KKR)।

इस बार आईपीएल के दौरान विदेशी खिलाड़ियों के प्रदर्शन के कही आलोचन हुए है। इस आईपीएल सीजन में अधिकतर विदेशी खिलाड़ियों ने बहुत ख़राब प्रदर्शन किया है जबकि उन पर काफी पैसा लगाए गए था।

इस सूचि में बेन स्‍टोक्‍स और ग्‍लेन मैक्‍सवेल का नाम सबसे ऊपर है। इस सीजन के बीच में साउथ अफ्रीका के पूर्व कप्‍तान ग्रीम स्मिथ ने कंगारू खिलाडि़यों और कोच के खिलाफ भेदभाव का आरोप भी लगाया।

ग्रीम स्मिथ के समर्थन में वेस्‍ट इंडीज के पूर्व कप्‍तान डैरेन सैमी भी आए थे। दोनों दिग्गज क्रिकेटरों ने ऑस्‍ट्रेलियन कोच के खिलाफ अपने देश के खिलाड़ियों को खेलनें के ज्‍यादा से ज्‍यादा मौके दिए हैं।

जबकि दूसरे देशों के खिलाड़ियों को ना तो भरपूर समय दिया जा रहा है न तो ज्यादा मोक इस सीजन में आठ में से चार टीमों के कोच ऑस्‍ट्रेलियन है। सनराइजर्स हैदराबाद के कोच टॉम मूडी, किंग्‍स इलेवन पंजाब के ब्रेड हॉज, राजस्‍थान रॉयल्‍स के मेंटॉर के रूप में शेन वॉर्न और दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स के रिकी पोटिंग है।

इन चार टीमों में से केवल सनराइजर्स हैदराबाद ही फाइनल में जगह बना सकती है। दिल्‍ली और पंजाब की टीम क्रमश 8वें और 7वें नंबर रही तो दूसरी तरफ राजस्‍थान रॉयल्स की टीम एलिमिनेटर में कोलकाता से हारकर बाहर हो गई।

पहले पंजाब की तरफ से शुरुआत करते है:
आरोन फिंच जो 6.20 करोड़ रुपये में बिके ख़राब प्रदर्शन के बावजूद 10 मैच में मौके दिए गए परिणाम मात्र 134 रन मार्कस स्‍टोइनिस एक और ऑस्ट्रेलियाई  खिलाड़ी भी 6.20 करोड़ रुपये में बीके इनको भी खराब फॉर्म के बावजूद लगातार मौके दिए और सात मैचों में खिलाया गया और परिणाम मात्र 99 रन बना सके।

इन दोनों को कई मौके दिए गए परन्तु पंजाब के पूर्व कप्तान और दक्षिण अफ्रीका के बालेबाज डेविड मिलर (कीमत-तीन करोड़ रुपये) को केवल तीन मौके मिले।

दिल्ली:
दिल्ली डेयरडेविल्स की बात करें तो उनके सबसे महंगे खिलाड़ी ऑस्ट्रेलियाई आल-राउंडर ग्‍लेन मैक्‍सवेल जिनको 9 करोड़ रुपये में ख़रीदा गया इन्हें भी लगातार मौके मिलते रहे कुल 12 मैचों में खेले लकिन वे मात्र 169 रन बना सके।

एक और ऑस्ट्रेलियाई आल-राउंडर डेन क्रिस्टियन जिन पें दिल्ली ने भरोसा किया और 1.50 करोड़ रुपये में ख़रीदा भले ही इन्हीं कम मौके मिले पर उसमे भी ये अपने आप को साबित नहीं कर सके और चार मैच खेले और मात्र 26 रन बनाने के अलावा चार विकेट ले सके।

दूसरी ओर, इंग्लैंड के जेसन रॉय कीमत-1.50 करोड़ रुपये ने पांच मैचे खेले और सिर्फ 120 रन बना पाए। कीवी खिलाड़ी कोलिन मुनरो कीमत-1.90 करोड़ रुपये को पांच बार मौके दिए गए, जिनमें इन्होंने केवल 63 रन बनाए।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com