Breaking News

ओडिशा में तबाही मचाने के बाद ‘फैनी‘ पहुंचा पश्चिम बंगाल

Posted on: 04 May 2019 08:03 by Pawan Yadav
ओडिशा में तबाही मचाने के बाद ‘फैनी‘ पहुंचा पश्चिम बंगाल

ओडिशा में तीन घंटे तक तबाही मचाने के बाद फैनी तूफान अब पश्चिम बंगाल पहुंच गया है। तूफान से पहले पश्चिम बंगाल में तेज हवाओं और बारिश ने लोगों को परेशानी में डाल दिया। इधर, राज्य सरकार ने सुरक्षा की दृष्टि से कोलकाता में उड़ान भरने वाले विमानों पर रोक लगा दी है, जबकि हावडा-चेन्नई मार्ग पर करीब 220 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं। तूफान के पश्चिम बंगाल की ओर बढ़ने के चलते मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी सभी चुनावी रैलियां रद्द कर दी है और स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।

तूफान में छह लोगों की मौत

इससे पहले ओडिशा में चक्रवाती तूफान फैनी ने जमकर तांडव मचाया। करीब 245 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चली हवाओं के कारण कई पेड़ धराशायी हो गए, जबकि कई मकान ध्वस्त हो गए। तूफान के कारण लगभग 8 लोगों की मौत हो गई, जबकि 150 लोग घायल हो गए हैं। हालांकि बाद में तूफान का असर कम हो गया था और पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्र की ओर बढ़ गया था।

fani

कई पेड़ उखड़े, तो कई इमारतों को पहुंची क्षति

गौरतलब है कि फैनी तूफान शुक्रवार सुबह 9 बजे ओडिशा के तट से टकराया था, जिसके बाद इसका प्रचंड रूप देखने को मिला था। वहीं ओडिशा और यूपी में इस तूफान से करीब 6 लोगों की मौत हो गई है। फैनी तूफान की पूर्व सूचना मिलने मिलने के प्रशासन भी मुस्तैद हो गया था और करीब 11 तटीय जिलों से लगभग 11 लाख लोगों को गुरुवार को सुरक्षित स्थान पर भेज दिया गया है। वहीं इस तूफान से कई पेड़ उखड़ गए हैं और इमारतों को भी भारी नुकसान हुआ है। साथ ही इस तूफान से क्षेत्र में बिजली आपूर्ति भी ठप पड़ गई है और संचार सेवा पर भी इसका असर देखने को मिला है।

केंद्र सरकार ने चार राज्यों को पहुंचाई मदद

फैनी तूफान का खतरा देखते हुए केंद्र सरकार ने आपातकालीन परिस्थितियों से निपटने के लिए 4 राज्यों के लिए 1086 करोड़ रूपए का एडवांस फंड भी जारी कर दिया हि। इसके अलावा भारतीय नौसेना भी हाई अलर्ट पर है। खबारों की माने तो गृह मंत्रालय द्वारा स्टेट डिजास्टर रिस्पांस फंड से चार राज्यों को फंड जारी किया गया है। जिसमे आंध्रप्रदेश के लिए 200.25 करोड़, ओडिशा के लिए 340.87 करोड़, तमिलनाडु के लिए 309.37 करोड़ और पश्चिम बंगाल के लिए 235.50 करोड़ रुपए की राशि जारी की गई है। साथ ही राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल द्वारा आंध्र प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, झारखंड, केरल, ओडिशा, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में अपनी 54 बचाव और राहत टीमों को तैनात कर किया गया है।

Read More रहस्यमयी है हिमालय की वादियां, पाताल लोक जाने का है रास्ता

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com