ऐसा गांव जहां रातों-रात गायब हो गए थे पांच हज़ार लोग, हैरान कर देगा ये किस्सा

0
40

दुनिया के हर कोने में कुछ न कुछ रहस्य छिपा हुआ है. जिससे जुडी कई कहानियां सामने आ हैं, जिसे सुनकर हर कोई हैरान हो जाता है. आज हम आपको एक ऐसी ही रहस्यमयी गांव के बारे में बताने जा रहे हैं, अहन रातों-रात हजारों लोग गायब हो गए थे.

यह गांव कहीं और नहीं बल्कि भारत के राजस्थान के कुलधरा में ही है. यह करीब 200 साल पहले कुलधरा और इसके आसपास के गांव पालीवाल ब्राह्मणों से आबाद हुआ करते थे, लेकिन अब यहां खंडरहो चुके मकान ही बच गए हैं. यहां अब कोई भी इंसान नहीं रहता है.

इस गांव के वीरान होने के पीछे एक काफी रहस्यमयी कहानी जुडी हुई हैं. यहां ऐसा कहा जाता है कि रियासत के दीवान सालेम सिंह की नजर गांव के ही एक पुजारी की बेटी पर पड़ गई थी. वह उसे पाने के लिए बेचैन था. उसने गांव वालों को धमकी दी थी कि वो उस लड़की से उसकी शादी करा दें और अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया तो वो गांव को खत्म कर देगा.

सलोम सिंह की धमकी के बाद गांव 5000 से ज्यादा लोगों ने रियासत छोड़ दिया रातों-रात गायब हो गए. अब यह आज तक किसी कोई भी पता नहीं चल पाया है कि वह लोग कहां गए कैसे गए. उनका आज तक किसी भी पता नहीं चला. ऐसा कहा जाता है कि, ब्राह्मणों ने गांव छोड़ने से पहले यहां श्राप दिया था कि इस गांव में कोई भी अपना घर नहीं बसा पाएगा. तभी से ये गांव पूरी तरह वीरान पड़ा हुआ है. जानकारी के मुताबिक, यहां कई लोगों ने अपना घर बसाने की कोशिश की थी, लेकिन वह नाकाम रहे.

कुलधरा गांव

लोगों का कहना है कि अब इस गांव में ब्राह्मणों की रूहानी ताकतों का कब्ज़ा है, जो यहां घुमने आए लोगों को अपने होने का एहसास भी कराती है. लोग यहां दिन में भी जाने से डरते हैं. इस गांव के बारे में लोगों का ऐसा भी कहना है कि यहां पालीवाल ब्राह्मणों द्वारा छिपा कर रखा गया बेशकीमती खजाना भी है, जिसे वो जाते समय छोड़ कर चले गए थे. इसी खजाने की खोज में कई लोग यहां आते हैं. जिस दौरान यहां कई जगह खुदाई भी की थी, लेकिन किसी के हाथ कुछ भी नहीं लगा. हालांकि अब यह गांव पुरातत्व विभाग के संरक्षण में है. दिन में यहां पर्यटक घूमने के लिए आते रहते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here