Breaking News

LIVE Budget : बजट की सबसे बड़ी घोषणा, 5 लाख तक की आय पर कोई टैक्स नहीं

Posted on: 01 Feb 2019 12:38 by Pawan Yadav
LIVE Budget : बजट की सबसे बड़ी घोषणा, 5 लाख तक की आय पर कोई टैक्स नहीं

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने अंतरित बजट पेश करते हुए नौकरी पेशा, माध्यम वर्गीय, पेंशनर्स सहित अन्य लोगों को राहत दी है। अब पांच लाख रूपए तक इनकम पर अब कोई टैक्स नहीं देना होगा। इस घोषणा के बाद करीब तीन करोड़ लोगों को फायदा होगा।

देश के विकास में टैक्सपेयर का विशेष योगदान रहा। टेक्सपेयर के पैसे से 50 करोड़ भारतीयों का भला हुआ। टैक्स रिफॉर्म का कुछ फायदा मिडिल क्लास को मिलेगा। पांच लाख तक की आय वालों को टैक्स में छूट। लोकसभा में मोदी-मोदी के नारे लगे। पहले यह सीमा ढाई लाख रुपए थी। स्टैंडर्ड डिडक्शन 40 हजार से बढ़ाकर 50 हजार किया। एफडी के टैक्स पर 40 हजार तक ब्याज नहीं लगेगा। 6.5 लाख तक की बचत पर टैक्स नहीं लगेगा।

टैक्स कलेक्शन 12 लाख करोड़ रुपये हुआ। टैक्स रिटर्न भरने वाले बढ़कर 6.85 करोड़ हुए। टैक्स कलेक्शन का पैसा गरीबों के विकास में लगा। 99.94 प्रतिशत टैक्स बिना स्क्रूटिनी के पास हुआ। टैक्स व्यवस्था को आसान बनाया गया। कर आधार 3.79 करोड़ से बढ़कर 6.85 करोड़ हो गया है।

वहीं निवेश के साथ 6.5 लाख रुपए तक की आमदनी पर टैक्स नहीं देना होगा। सैलरी क्लास के लिए स्टैडर्ड डिडक्शन 40 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रुपए कर दिया गया है। हर टैक्स पेसर्स को 13 हजार रुपए का फायदा मिलेगा। नई घोषणा के अनुसार 40 हजार रुपए तक के बैंक ब्याज पर कोई टैक्स नहीं देना होगा। यदि आप दूसरा घर लेते हैं, तो उस पर भी टैक्स नहीं लगेगा। वित्त मंत्री ने कहा कि भारत के इतिहास में पहली बार टैक्स स्लैब में इतनी बढ़ी छूट मिली है। नए नियम के अनुसार 10 लाख से ऊपर की आमदनी पर 30 प्रतिशत टैक्स देना होगा। वहीं 5 लाख से 10 लाख रुपए तक की आमदनी पर 20 प्रतिशत का टैक्स देना होगा।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com