LIVE: ‘फैनी’ का तांडव, ममता ने रद्द की सभाएं, विशाखापट्टनम से मुंबई के लिए स्पेशल ट्रेन

0
82
fani cyclone

चक्रवाती तूफान ‘फैनी’ ओडिशा के पुरी से टकरा गया है। पुरी में 245 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है और बारिश हो रही है। पुरी के तांडव को देखते हुए प्रशासन पहले से ही अलर्ट पर है। इस तूफ़ान से अब तक पांच लोगों की मौत हो गई है। समुद्री किनारों से लोगों को हटा कर सुरक्षित जगहों पर पहुंचा दिया गया है।तूफ़ान से लड़ने की तैयारियों पर खुद मुख्यमंत्री नविन पटनायक ने अपनी नजर बनाई रखी है।

LIVE UPDATES:

तेज हवाओं के कारण गिरे कई पेड़

श्रीकाकुलम में 20 मकान ढहे

तूफ़ान के कहर से श्रीकाकुलम में 20 मकान ढह गए हैं और कुछ आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुए हैं,

कोलकाता एयरपोर्ट बंद

कोलकाता एयरपोर्ट आज रात 9:30 बजे से शनिवार सुबह 6 बजे तक बंद रहेगा.

ममता बनर्जी ने रद्द की चुनावी सभाएं

ओडिशा में तेज हवाओं के साथ बारिश.

240-250 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से चल रही हवाएं.

आन्ध्र प्रदेश में रहत और बचाव कार्य जारी.

11 लाख लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया

खतरनाक चक्रवाती तूफान से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकार ने सभी तैयारियां कर ली है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ‘फैनी‘ की चपेट में 10 हजार गांव और 52 शहर आने की आशंका है। गृह मंत्रालय ने बताया कि लगभग 11 लाख लोगों को पहले ही सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा चुका है। साथ ही समुद्री तटों से दूर रहने की हिदायत दी गई। वहीं सुरक्षा की दृष्टि से स्कूल और काॅलेजों की छुट्टी घोषित की गई है।

उठ सकती है 1.5 मीटर ऊंची तूफानी लहर

भारतीय मौसम विभाग का कहना है कि तूफान की वजह से करीब 1.5 मीटर ऊंची तूफानी लहर उठ सकती है। इस वजह से तटीय क्षेत्र से ओडिशा के गंजाम, खुर्दा, पुरी और जगतसिंहपुर जिलों के निचले तटीय क्षेत्रों में बाढ़ आ सकती है। हालांकि केंद्र और राज्य सरकार ने बचाव कार्य के सारे इंतजाम कर रखे हैं और सेना व बचाव दल को अलर्ट पर है।

103 ट्रेनें की रद्द

‘फैनी‘ तूफान अब और भी खतरनाक होता जा रहा है। इसके चलते पहले से ही नुकसान से बचने और सुरक्षा को देखते हुए सरकार ने भारतीय नौसेना, भारतीय तटरक्षक बल और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की 78 टीमों को तैनात किया गया है। रेलवे ने भी तूफान से बचने के लिए बुधवार को 22 ट्रेनों को रद्द किया था। तूफान के कारण रद्द की गई ट्रेनों की संख्या 103 हो गई है। वहीं रेलवे ने भी फैनी तूफान से बचाव के लिए कुछ बदलाव किए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here