Breaking News

आईआईएम इंदौर ने आयोजित की ‘आंत्रप्रिन्योरशिप’ पर एक्सपर्ट टॉक

Posted on: 12 Feb 2019 18:38 by Surbhi Bhawsar
आईआईएम इंदौर ने आयोजित की ‘आंत्रप्रिन्योरशिप’ पर एक्सपर्ट टॉक

आईआईएम इंदौर ने जैन इंजीनियरिंग सोसाइटी (JES), जैन इंटरनेशनल ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन (JITS) और जैन सोशल ग्रुप (JSG) के सहयोग से 10 फरवरी, 2019 को ‘उद्यमिता’ पर एक एक्सपर्ट टॉक का आयोजन होटल प्रेसिडेंट में किया। इस वार्ता के मुख्य वक्ता आईआईएम इंदौर के शिक्षक एवं उद्यमिता सेल के चेयरमैन, प्रोफेसर डी एल सुन्दर थे। इस अवसर पर उपस्थित अन्य प्रतिनिधियों में JITO के सचिव श्री एस भागवत नागौरी; प्रोफेसर अभिषेक मिश्रा, संकाय और अध्यक्ष- इंडस्ट्री इंटरफेस कार्यालय, आईआईएम इंदौर; श्री राजेंद्र जैन, JITO के अध्यक्ष और श्री प्रदीप जैन, JES अध्यक्ष शामिल थे।

IIM indore
यह कार्यक्रम नाश्ते और नेटवर्किंग सत्र के साथ शुरू हुआ जिसने सभी को एक-दूसरे के साथ बातचीत करने के लिए एक मंच प्रदान किया। स्वागत भाषण श्री नागोरी द्वारा दिया गया जिन्होंने उद्यमिता और इसके विशिष्ट गुणों पर चर्चा की।

IIM indore

इसके बाद श्री तपन जैन ने उद्यमिता विषय पर आयोजित होने वाले इस तरह के व्याख्यान के महत्व पर चर्चा की, और कहा कि ये व्याख्यान युवाओं को उद्यमी बनने के लिए प्रोत्साहित करने में मदद करते हैं। प्रोफेसर अभिषेक मिश्रा ने इंडस्ट्री इंटरफेस ऑफिस, उसके मिशन और विभाग द्वारा संचालित की जा रही विभिन्न गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। राजेंद्र जैन ने प्रोफेसर सुंदर का परिचय देते हुए कहा कि वे हमारे देश के बेहतरीन शिक्षाविदों में से हैं।

IIM indore
प्रोफेसर सुंदर ने अपने वक्तव्य की शुरुआत में उनके इंदौर में शुरूआती दिनों के बारे में बताया। उन्होंने आईआईएम इंदौर परिसर में छात्रों को पढ़ाए जाने वाले विभिन्न विषयों और इसके महत्व पर भी चर्चा की। प्रोफेसर सुंदर ने छात्रों को पढ़ाने और संभालने के दौरान आने वाली परिस्थितियों को भी साझा किया। उनका कहना था कि अच्छे शिक्षाविद वे हैं जो मूल रूप से परिवेश से सीखते हैं और फिर छात्रों को पढ़ाते हैं। उन्होंने खुद को सभी उद्यमियों के साथ जोड़ा और अधिक विकसित होने का आग्रह करने के लिए अपनी मानसिकता का अवलोकन किया। उन्होंने प्रतिस्पर्धात्मक बाजार में जीवित रहने के लिए स्टार्टअप व्यवसाय और व्यापार संशोधन के विचार पर अपने विचार दिए।

IIM indore
वक्तव्य एक प्रश्नोत्तर सत्र के साथ संपन्न हुआ जहां प्रोफेसर सुंदर ने प्रतिभागियों द्वारा पूछे गए दिलचस्प सवालों के जवाब दिए। आभार प्रदर्शन श्री प्रदीप जैन द्वारा किया गया। उन्होंने आईआईएम इंदौर की टीम द्वारा इस आयोजन को सुचारू रूप से संचालित करने के प्रयासों की भी सराहना की। राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com