Breaking News

करारी हार के बाद कांग्रेस को बड़ा झटका, संसद में नहीं मिलेगा विपक्ष का दर्जा | Election Results 2019 Congress Leaders failed In Lok Sabha

Posted on: 24 May 2019 15:40 by bharat prajapat
करारी हार के बाद कांग्रेस को बड़ा झटका, संसद में नहीं मिलेगा विपक्ष का दर्जा | Election Results 2019 Congress Leaders failed In Lok Sabha

नई दिल्ली : गुरुवार को आए लोकसभा चुनाव के परिणामों के बाद देश में एक बार फिर मोदी सरकार का आगाज हो चुका है। बीजेपी ने इस बार 2014 से भी अच्छा प्रदर्शन करते हुए जीत हासिल की है जिसके बाद अब सबकी निगाहें पीएम मोदी के शपथ ग्रहण पर टिकी हुई है।

वहीं देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस मात्र 52 सीटों पर ही सिमट कर रह गई है। इसके अलावा कांग्रेस को अब ससंद में मुख्य विपक्षी दल का दर्जा भी नहीं मिल पाएगा। बता दे कि संसद में मुख्य विपक्षी दल का दर्जा हासिल करने के लिए देश की 10 फिसदी यानी 55 सीटों पर जितना जरूरी होता है लेकिन कांग्रेस को मात्र 52 सीटें ही मिली है। वहीं राहुल गांधी को लीडर ऑफ अपोजिशन (एलोपी) का पद भी नहीं मिल पाएगा।

2014 में भी थी यही स्थिति –
बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए ने 2014 में भी बहुमत से सरकार बनाई थी और उस समय भी कांग्रेस को मुख्य विपक्षी दल का दर्जा नहीं मिल पाया था। उस दौरान कांग्रेस को महज 44 सीटों पर ही जीत मिली थी।

बता दें कि एलोपी केंद्रीय सतर्कता आयोग और लोकपाल जैसे निकायों में महत्वपूर्ण नियुक्ति के लिए चयन पैनल का अंग होता है। साथ ही वह सीबीआई निदेशक के चयन पैनल का भी हिस्सा होता है।

कांग्रेस ने स्पीकर से की थी मांग –
बता दे कि कांग्रेस ने लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन के सामने विपक्ष में सबसे बड़ी पार्टी होने का हवाला देते हुए मुख्य विपक्षी दल का दर्जा दिए जाने की मांग की थी। लेकिन महाजन ने पिछले उदाहरण और अटॉर्नी जनरल की राय का हवाला देते हुए इस मांग को खारिज कर दिया था। हालांकि उन्होने विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को चयन पैनल में स्वीकार करने की बात मान ली थी।

टीएमसी को भी नही मिला था ये दर्जा –
बता दें कि इससे पहले 1985 में भी विपक्ष की यही स्थिति थी और उसे एलओपी का पद नहीं मिल सका था। 1985 में तत्कालीन लोकसभा स्पीकर बलराम जाखड़ ने टीडीपी को एलोपी पद देने से मना कर दिया था। पीडीपी उस वक्त कांग्रेस के बाद देश की सबसे बड़ी पार्टी थी।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com