Breaking News

लोकसभा चुनाव : इंदौर के परिणाम के लिए 24 मई तक करना पड़ सकता है इंतजार | Lok Sabha Election 2019 Result for Indore Seats might be delayed by one day…

Posted on: 22 May 2019 20:29 by bharat prajapat
लोकसभा चुनाव : इंदौर के परिणाम के लिए 24 मई तक करना पड़ सकता है इंतजार | Lok Sabha Election 2019 Result for Indore Seats might be delayed by one day…

मध्य प्रदेश में चार चरणों के तहत हुए लोकसभा चुनाव का परिणाम 23 मई को आना है। लेकिन इंदौर और भोपाल में कुछ कारणों के चलते परिणाम में देरी हो सकती है। जिसके चलते 24 मई को इन सीटों के चुनाव परिणाम आने की संभावना जताई जा रही है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांता राव ने मंगलवार को बताया कि जिन लोकसभा क्षेत्रों में 20 से ज्यादा राउंड में काउंटिंग होगी और जहां पर 25 से ज्यादा प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं, वहां पर मतगणना रात भर चल सकती है। इसके अलावा ईवीएम की गिनती के बाद हर विधानसभा क्षेत्र में 5-5 वीवीपैट की पर्चियों का ईवीएम के आंकड़ो से मिलान किया जाएगा जिसमें 4 घंटे अधिक समय लगेगा।

वीएल कांताराव के अनुसार सुबह 8ः00 बजे से निवाड़ी को छोड़कर सभी 51 जिलों में मतगणना शुरू कर दी जाएगी। मतगणना में 913 सहायक रिटर्निंग ऑफिसर बनाए गए हैं, साथ ही प्रत्येक टेबल पर मतगणना पर्यवेक्षक, एक सहायक एक माइक्रो ऑब्जर्वर और एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की नियुक्ति की गई है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी स्टोर रूम से ईवीएम को अभ्यर्थी या उसके अधिकृत प्रतिनिधि की मौजूदगी में सुबह 7ः00 बजे सुरक्षा व्यवस्था के बीच निकाला जाएगा जिसकी पूरी वीडियोग्राफी भी की जाएगी। उन्होने बताया मतगणना केंद्रों की न तो वेबकास्टिंग की जाएगी और ना ही वाईफाई का इस्तेमाल किया जाएगा। रुझान और नतीजे चुनाव आयोग की वेबसाइट और वोटर हेल्पलाइन पर उपलब्ध रहेंगे।

वीएल कांता राव ने मतगणना के दौरान हर राउंड के बाद प्रत्याशियों को प्रमाण पत्र दिए जाने की भी बात की है। उन्होंने बताया कि प्रमाण पत्र देने के बाद ही अगले राउंड की गिनती शुरु की जाएगी। इसके बाद ही नतीजे घोषित किए जाएंगे।

चुनाव पदाधिकारी ने बताया कि जिलावार काउंटिंग की जाएगी। जिसके चलते सबसे पहले कटनी जिले का परिणाम रात 10ः00 बजे तक आने की संभावना है। प्रदेश की 29 सीटों के लिए 51 जिला मुख्यालयों पर 292 काउंटिंग रूम बनाए गए हैं।

23 मई को सुबह 8ः00 बजे 19 जिलों में जहां रिटर्निंग ऑफिसर है वहां पर पहले पोस्टल बैलट की गिनती होगी फिर 8ः30 बजे से ईवीएम की गिनती शुरू कर दी जाएगी। इसके अलावा जिन जिलों में जहां पर आरओ नहीं है वहां पर सुबह 8ः00 बजे से ईवीएम की गिनती शुरु की जाएगी।

उन्होंने बताया कि मतगणना के लिए 15000 कर्मचारियों को तैनात किया गया है साथ ही 9000 सुरक्षाकर्मी की भी तैनाती की गई है। मतगणना स्थल पर मोबाइल कैमरा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस आदि प्रतिबंध रहेंगे।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com