Breaking News

ईवीएम नहीं, कर्मचारियों की विश्वसनीयता पर संदेह, बोले पूर्व चुनाव आयुक्त | No EVM, doubts on the credibility of Employees, said by Pre-Election Commissioner

Posted on: 19 Apr 2019 15:38 by Surbhi Bhawsar
ईवीएम नहीं, कर्मचारियों की विश्वसनीयता पर संदेह, बोले पूर्व चुनाव आयुक्त | No EVM, doubts on the credibility of Employees, said by Pre-Election Commissioner

देश के पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत शुक्रवार को इंदौर में है। यहां उन्होंने मीडिया से बात करते हुए ईवीएम की विश्वसनीयता पर लगातार उठ रहे सावालों का जवाब दिया। उन्होंने कहा कि चुनाव में इस्तेमाल की जा रही ईवीएम पर हमें संदेह नहीं है बल्कि यह मशीन जिन हाथों में है उन्ब्की विश्वसनीयता पर विश्वास करना मुश्किल है।

रावत ने कहा कि पूरी दुनिया ईवीएम की तारीफ करती है और हमारे यहां पार्टी इसपर प्रश्नचिन्ह लगा रही है। इस कारण यही है कि ईवीएम जिन हाथोंमें है वे उसे कैसे इस्तेमाल कर रहे है, यह नहीं कहा जा सकता। नकी विश्वसनीयता पर विश्वास करना मुश्किल है।

बताया मणिपुर का मामला

इस दौरान ओपी रावत ने ईवीएम के दुरूपयोग का एक किसा सुनाया. उन्होंने बताया कि मणीपुर में एक बूथ पर मतदान हो रहा था. इस दौरान वहां एक सज्जन आए और बूथ के सभी कर्मचारी खड़े हो गए. उन सज्जन ने मतदाता को संदर बुलाया, उनकी उंगली पर स्याही लगवाई और वोट खुद डाला. इसके बाद वह हर मतदाता के साथ ऐसा करने लगे. बूथ की गतिविधियों को लाइव देख रहा था।

इसके बाद आयोग ने अधिकारियों को वहां भेजा और बूथ पर हो रही गड़बड़ी को रुकवाया। इसके बाद पुराने सभी वोट रद्द कर सामान्य मतदान कराया गया। रावत ने कहा कि यदि इस दौरान आयोग निगरानी नहीं रखता टीवीएम पर सवाल उठने शुरू हो जाते।

रावत ने कहा कि ईवीएम की निष्पक्षता के लिए यह आवश्यक है कि वह जिन हाथों में हैं वह निष्पक्ष रहे। आगे उन्होंने कहा कि आम चुनाव में पैसों का दुरूपयोग भी बढ़ता जा रहा है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com