सोमवार को भूलकर भी ना करें यह काम नहीं तों भोलेनाथ हो जाएंगे गुस्सा

0
34
shiva

भगवान शिव की प्रवृत्ति भोले की तरह हैं यही कारण हैं कि लोग इन्हें भोलेनाथ कहते हैं। भोलेनाथ अपने भक्तों से किसी तरह की विधि विधान और भी किसी तरह के नियम के पालन के लिए नहीं कहते हैं। जितना शिव अपने भोलेपन के जाने जाते हैं उतना ही वे अपने क्रोध को लेकर भी जाने जाते हैं। भगवान शिव को यदि एक बार क्रोध आ जाए तो फिर उन्हें शांत करना इतना आसान नहीं होता हैं। आज हम आपको यही बताएंगे कि किन कामों को करने से भगवान शिव क्रोधित हो जाते हैं।

1- सोमवार के दिन जब भी आप शिव मंदिर जाते हैं या घर पर भी पूजा करते हैं तो ध्यान रखें कि इस दिन साफ मन के साथ मंदिर जाना चाहिए और पूजा भी साफ मन से ही करना चाहिए। मंदिर या पूजा के दौरान मन में गलत ख्याल आना, क्रोध आना, महिला को गलत नजर से देखना आदि चीजें नहीं होनी चाहिए।

2- सोमवार के दिन मांस मदिरा का सेवन बिलकुल ना करें। कोशिश करें कि इस दिन शादी ब्याह के कार्य ना करें बल्कि इस समय ब्रह्मचर्य के व्रतों के नियमों का पालन करें। ताम्बे या पीतल के बर्तन में खाना ना खाएं।

3- सोमवार के दिन भूल कर भी भोलेनाथ को हल्दी का उबटन ना लगाए, इसे अशुभ माना जाता है।

4- मान्यता है कि सावन माह में या सोमवार के दिन किसी दूसरे के धन और स्त्री पर नजर रखना पाप होता हैं। ऐसे व्यक्ति से भगवान शिव घृणा करते हैं।

5- सावन माह या सोमवार को सुबह उठकर स्नान करके भगवान शंकर के साथ माता पार्वती और नंदी को गंगाजल या पवित्र जल चढ़ाना अच्छा माना जाता हैं।

6- हिन्दू धर्म में नारियों को देवी के समान माना जाता हैं और कहा जाता हैं कि जिस घर में इनका सम्मान होता हैं उस घर में भगवान वास करते हैं इस लिए भूल कर भी हमको सोमवार के दिन पत्नी से मार पीट नहीं करना चाहिए साथ ही घर में और बाहर भी सभी स्त्रियों का सम्मान करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here