देशभर के डाॅक्टर आज हड़ताल पर, नहीं करेंगे काम

0
41

पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के साथ हुई मारपीट की घटना के विरोध में सोमवार को देशभर में डॉक्टरों की हड़ताल रहेगी। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने केंद्रीय चिकित्सक सुरक्षा कानून लाने की मांग करते हुए सोमवार सुबह 6 बजे से मंगलवार सुबह 6 बजे तक हड़ताल का ऐलान किया है।

बताया जा रहा है कि इस हड़ताल में करीब तीन लाख से ज्यादा डॉक्टर शामिल होंगे। इस हड़ताल में प्राइवेट सहित सरकारी अस्पतालों के रेजीडेंट व आयुष के डॉक्टर भी शामिल होंगे। ऐसे में करीब दस लाख डॉक्टर ओपीडी में नहीं दिखेंगे। इससे मरीजों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि आपातकालीन वार्ड, प्रसूति और पोस्टमार्टम सहित अन्य काम प्रभावित नहीं होंगे। दरअसल, पिछले दिनों पश्चिम बंगाल के एनआरएस कॉलेज में दो जूनियर डॉक्टरों के साथ मारपीट हुई थी। इसके बाद पूरे देश के डॉक्टरों में आक्रोश है। इसी के चलते पिछले तीन दिन से हड़ताल चल रही है और सोमवार को भी काम नहीं करने का निर्णय लिया है।

सरकारी अस्पतालों के रेजीडेंट डॉक्टरों ने भी आईएमए के समर्थन में दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, यूपी, बिहार, एमपी, राजस्थान, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़, केरल, तमिलनाडू और पश्चिम बंगाल सहित सभी राज्यों के रेजीडेंट डॉक्टरों ने हड़ताल का निर्णय लिया है। हालांकि देर शाम तक दिल्ली एम्स के डॉक्टरों की बैठक जारी थी, जबकि केंद्र सरकार के सफदरजंग, लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज और डॉ. राम मनोहर लोहिया (आरएमएल) अस्पताल व दिल्ली सरकार के अस्प्तालों ने हड़ताल की घोषणा कर दी है।

आईएमए के सचिव डॉ. आरवी अशोकन ने कहा कि डॉक्टरों के खिलाफ होने वाली हिंसा से निपटने के लिए केंद्रीय कानून बनाने को लेकर राष्ट्रव्यापी हड़ताल की जा रही है। ओपीडी सहित सभी गैर-जरूरी सेवाएं सुबह 6 बजे से अगले दिन सुबह 6 बजे तक स्थगित रहेगी। सभी आपातकालीन सेवाएं सामान्य रूप से काम करती रहेंगी। इधर, फेडरशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉक्टर सुमेध ने बताया कि अब तक डॉक्टरों की सुरक्षा को लेकर ठोस आश्वासन नहीं मिला है। इसीलिए सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल का फैसला लिया है। दिल्ली के सभी सरकारी अस्पतालों में फोर्डा के नेतृत्व में हड़ताल होगी। इस हड़ताल में देश भर में आयुष डॉक्टर भी शामिल होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here