Breaking News

राहू का प्रतीक है ये चीजें, धनतेरस पर गलती से भी ना ख़रीदे

Posted on: 02 Nov 2018 16:59 by shilpa
राहू का प्रतीक है ये चीजें, धनतेरस पर गलती से भी ना ख़रीदे

मान्यता के अनुसार धनतेरस पर लक्ष्मी मां घर आती हैं कृपा बरसाती हैं। धनतेरस का त्योहार धूमधाम के साथ मनाया जाता है। इस बार धनतेरस 5 नवंबर को है, नरक चौदस 6 नवंबर और दिवाली 7 नवंबर को है। दिवाली के बाद 8 नवंबर को गोवर्धन पूजा और 9 नवंबर को भाईदूज का त्योहार मनाया जाएगा।

दीवाली आने के कई दिनों पहले से ही तैयारियां शुरू हो जाती है। घरों की साफ-सफाई, साज-सज्जा,दिया और पूजा का सामान,लाइटिंग खरीदना आदि काम बहुत दिन पहले ही कर लिए जाते हैं। धनतेरस के शुभ दिन खरीदारी करने का विशेष महत्व है। इस दिन खरीदारी शुभ फलदायी होता है। हालांकि हम सोना-चांदी खरीदना तो खरीदते है लेकिन जरूरी चीजों खरीदना भूल जाते हैं।

पौराणिक ग्रंथों के मुताबिक, माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए इन उपायों को करे।

अगर आप सोना या चांदी नहीं खरीद सकते तो आप पीतल का छोटासा बर्तन या चम्मच ही खरीद ले और बरकत के तौर पर पूजा में रखे। जिससे इससे आपकी सम्पन्नता में बढ़ोतरी होगी।

धनतेरस के दिन धनिया के बीज खरीदने की प्राचीन परंपरा है जिसे शुभ और समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। पूजा के समय धनिया के बीज लक्ष्मी मां को चढ़ाएं और पूजा के बाद किसी बर्तन या बगीचे में धनिया के बीज बो दें और कुछ बीज गोमती चक्र के साथ अपनी तिजोरी में रखें।

धनतेरस के दिन सुहागन महिला लाल रंग की साड़ी, सिंदूर के साथ देना भी अच्छा माना जाता है और श्रृंगार का सामान देना शुभ माना जाता है। इस दिन झाड़ू खरीदने का सांकेतिक अर्थ ये है कि आप अपने घर से गरीबी को हटा रहे हैं।

एल्युमीनियम या कांच को राहु का प्रतिक माना जाता है इसलिए इसे खरीद कर मां लक्ष्मी के आगमन से पहले आप राहु को अपने घर पर मत बुलाए। अगर आप साल भर व्यवसाय या कार्यक्षेत्र में सफलता चाहते है तो उसीसे संबधित कोई चीज ख़रीदे।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com