Breaking News

किनको पट्टे बांटकर फस गई आईएएस बी चंद्रकला

Posted on: 08 Jan 2019 17:37 by Surbhi Bhawsar
किनको पट्टे बांटकर फस गई आईएएस बी चंद्रकला

नीरज राठौर

अवैध खनन घोटाले के मामले में सीबीआई द्वारा लखनऊ में मारे गए छापे के बाद एक बार फिर आईएएस अफसर बी चंद्रकला सुर्खियों में आ गई हैं। सोशल मीडिया पर हमेशा सक्रिय और काफी चर्चा में रहने वाली यूपी कैडर 2008 बैच की आईएएस अधिकारी बी चंद्रकला मूलतः तेलंगाना की रहने वाली हैं।

अब सबकी नजर इनके एवं सात अन्य दबंग आरोपियों जिन पर मुख्यतः सीबीआई ने चार्जशीट दाखिल की है।
वैसे आपको सीबीआई की फाइल की हुई FIR संख्या RC 1A/2019/ SC3/ND देखनी चाहिए। जो आरोप लगे हैं, उनकी जांच होगी और कोर्ट में मामला तय होगा।

chandrakala

लेकिन मेरी नजर उन लोगों पर जा रही है जिन्हें चंद्रकला के डीएम रहते हुए हमीरपुर में माइनिंग के पट्टे दिए गए।

वे नाम कुछ इस प्रकार है-

  1. रमेश मिश्रा
  2. दिनेश मिश्रा
  3. अंबिका तिवारी
  4. संजय दीक्षित
  5. सत्यदेव दीक्षित
  6. राम अवतार सिंह
  7. करण सिंह

इन्हीं सात लोगों को ही जिला प्रशासन ने पट्टे दिए. अब मुझे और कुछ नहीं कहना है, सिवा इसके उस समय यूपी में समाजवादी सरकार थी। करप्शन हुआ या नहीं पता नहीं, लेकिन उस दौरान एक भी पट्टा किसी यादव को, किसी ओबीसी को, किसी मुसलमान को नहीं मिला। यूपी में सामाजिक न्याय की बहुत दुर्गति है और सारी दुर्गति कांग्रेस और बीजेपी नहीं कर रही है।

मेरे लिखने का ये मतलब नहीं है कि सीबीआई राजनीतिक मकसद से काम नहीं कर रही है। लेकिन कितने शर्म की बात है कि ओबीसी बहुल हमीरपुर में एक अनुसूचित जनजाति की डीएम और लखनऊ में समाजवादी पार्टी के सरकार के रहते हुए सारे खनन पट्टे ब्राह्मणों और ठाकुरों को मिल जाते हैं। एवं यादव, ओबीसी, एससी एवं एसटी कोई फायदा नहीं उठा पाते है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com