Breaking News

भगोड़े नीरव मोदी की जमानत याचिका फिर खारिज | Dismissed Bail Plea of ​​Fugitive ‘Nirav Modi’

Posted on: 09 May 2019 08:07 by Pawan Yadav
भगोड़े नीरव मोदी की जमानत याचिका फिर खारिज | Dismissed Bail Plea of ​​Fugitive ‘Nirav Modi’

पीएनबी को चूना लगाकर विदेश भागने वाले हीरा कारोबारी नीरव मोदी की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। ब्रिटेन की जेल में बंद भगोड़े नीरव ने कोर्ट जमानत याचिका लगाई थी, लेकिन एक बार फिर याचिका खारिज हो गई। नीरव जेल से बाहर आने के लिए तीन बार याचिका लगा चुका है।

गौतलब है कि नीरव मोदी पर पीएनबी के साथ करीब 14 हजार करोड़ की बैंक धोखाधड़ी और मनी लांड्रिंग मामले का आरोप है। सुनवाई के दौरान मोदी ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में मुख्य मजिस्ट्रेट एम्मा आर्बुथनॉट के सामने पेश हुए। नीरव के वकीलों ने जमानत राशि को बढ़ाकर दोगुना यानी 20 लाख पाउंड करने की पेशकश की। इतना ही नहीं, वह लंदन स्थित अपने फ्लैट में 24 घंटे की नजरबंदी में रहने के लिए तैयार हैं। इस दौरान तमाम दलीलें सुनने के बाद न्यायाधीश ने जमानत याचिका खारिज कर दी।
Read More : गलती करने वालों पर कार्रवाई करने में पीछे नहीं हटूंगा : एएसआई अरुण सिंह

भगोड़े नीरव मोदी को जेल में ही रहना होगा

इससे पहले भगोड़े नीरव मोदी की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने  दूसरी बार जमानत याचिका खारिज की है। अब अगली सुनवाई 26 अप्रैल को होगी, तब तक भगोड़े मोदी को जेल में ही रहना होगा। गौरतलब है कि लंदन में मोदी की जमानत का भारत की जांच एजेंसियों ने विरोध किया था।

नीरव मोदी को वेस्टमिंस्टर कोर्ट में पेश किया गया है। सरकार से जुड़े हुए सूत्रों का कहना है कि यदि नीरव मोदी को बेल मिलती है तो उसे रोकने के लिए भारत हायर कोर्ट में अपील कर सकता है।

must read: इस शख्स से मिलता है Nirav Modi का नया लुक, जानकार हो जाएंगे हैरान | Nirav Modi’s new look

जांच अधिकारी को हटाया

इसी बीच खबर आई है कि नीरव मोदी मामले की जांच कर रहे रहे प्रवर्तन निदेशालय के संयुक्त निदेशक सत्यब्रत कुमार का तबादला कर दिया गया है। लंदन के वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में वे भी मौजूद हैं जहां नीरव मोदी की बेल याचिका पर सुनावाई हो रही है।हालांकि ED ने इस खबर का खंडन किया है। बता दे कि विजय माल्या के जांच मामले में भी सत्यब्रत कुमार इन्वेस्टिगेशन अधिकारी की भूमिका निभा चुके हैं

दस्तावेज पेश करेगी ED

लंदन कोर्ट में हो रही सुनवाई के दौरान टीम सीबीआई और ईडी नीरव मोदी, उनकी पत्नी एमी मोदी और उनके मामा मेहुल चोकसी तथा अन्य के खिलाफ दर्ज आरोपपत्र की प्रतियों के अलावा अन्य जरूरी दस्तावेज पेश करेगी। भारतीय एजेंसियों के सूत्रों की मानें तो उनकी ओर से पूरी कोशिश रहेगी कि नीरव मोदी को बेल ना मिले।

must read: नीरव मोदी के बाद गिरफ्त में एक और भगोड़ा, ED को थी तलाश | Money Laundering Case: Hitesh Patel arrested

किया था गिरफ्तार

पंजाब नेशनल बैंक को करोड़ों की चपत लगाने का आरोपी नीरव मोदी को 20 मार्च को लंदन में गिरफ्तार किया गया था। इससे पहले सोमवार को ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने नीरव मोदी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया था। नीरव मोदी के खिलाफ रेड कार्नर नोटिस भी जारी हो चुका है।

must read: PNB घोटाला: लंदन में नीरव मोदी गिरफ्तार | PNB fraud: Neerav Modi arrested in London

13 हजार करोड़ का किया घोटाला

गौरतलब है कि करीब 13 महीने पहले नीरव मोदी पीएनबी में 13 हजार करोड़ का घोटाला कर विदेश भाग गया था। इसके बाद से ही भारत की जांच एजेंसियां उसकी तलाश में जुटी हुई थी। जांच एजेंसियों ने नीरव मोदी की कई संपत्तियां भी जब्त कर ली है। कुछ ही दिन पहले महाराष्ट्र के रायगढ़ में बने के आलिशान बंगले को ध्वस्त कर दिया गया था।

must read: नीरव मोदी की वजह से टूटी इस युवक की सगाई| nirav modi sold fake diamonds canadian youth his engagement broken dat

इतनी संपत्ति हुई जब्त

इस घोटाले के बाद नीरव मोदी की भारत और विदेशों में मौजूद 1,725.36 करोड़ रुपये की संपत्तियां को जब्त किया जा चुका है। इसके अलावा नीरव मोदी समूह से संबंधित 489.75 करोड़ रुपये के सोने, हीरे, बुलियन, आभूषण और अन्य कीमती सामान भी जब्त किए गए है।

must read: भगोड़े नीरव मोदी को झटका, ED ने जब्त की 637 करोड़ की संपत्ति

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com