IFFI के स्वर्ण जयंती समारोह में दिखाई जाएगी धर्मेंद्र, शर्मिला टैगोर और संजीव कुमार की सत्यकाम

0
27

ऋषिकेश मुखर्जी द्वारा निर्देशित और धर्मेंद्र, शर्मिला टैगोर और संजीव कुमार जैसे दिग्गज कलाकारों की मुख्य भूमिकाओं वाली फ़िल्म सत्यकाम इस साल गोवा में होनेवाले 50वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव (IFFI) में प्रदर्शित की जाएगी.

ग़ौरतलब है राष्ट्रीय पुरस्कार हासिल करनेवाली विभिन्न भाषाओं की चुनिंदा फ़िल्में IFFI के स्वर्ण जयंती समारोह में ‘गोल्डन लाइनिंग इंडियन फ़िल्म्स’ के सेक्शन में दिखाई जाएंगी.

50वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव, 2019 में 76 देशों की 200 से अधिक फ़िल्मों का प्रदर्शन किया जाएगा. इनमें इंडियन पैनोरोमा सेक्शन में 26 फ़ीचर और 15 ग़ैर-फ़ीचर फ़िल्मों का प्रदर्शन किया जाएगा. उल्लेखनीय है कि IFFI के इस स्वर्ण जयंती महोतस्व में देश और दुनिया के 10,000 से‌ ज़्यादा सिने-प्रेमियों के शामिल होने का अनुमान लगाया जा रहा है.

‘गोल्डन लाइनिंग इंडियन फ़िल्म्स’ के तहत उड़िया, बंगाली, तमिल, तेलुगू, कन्नड़, हिंदी, असमी और मलयालम भाषाओं की फ़िल्में दिखायी जाएंगी.

इस सेक्शन में एक और फ़िल्म

तांबडी माती भी दिखाई जाएगी, जिसका निर्देशन महान फ़िल्म भालजी पेंडारकर ने किया था. फ़िल्म की कहानी एक ऐसी विधवा लड़की के इर्द-गिर्द घूमती है, जिसे गांव का एक दबंग शख़्स बहुत परेशान करता है और उसी से संघर्ष की दास्तां है यह फ़िल्म. उल्लेखनीय है कि इस मराठी फ़िल्म ने 1969 में सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार जीता था.

इस समारोह में राम माहेश्वरी द्वारा निर्देशित नानक नाम जहाज है नामक फिल्म भी प्रदर्शित की जाएगी. इस फ़िल्म में एस. मोहिंदर ने संगीत दिया था, जिनके संगीतबद्ध किये गये गाने ‘रे मन ऐसो करो’ के चलते उन्हें 1970 में सर्वश्रेष्ठ संगीतकार के तौर पर राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाज़ा गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here