Breaking News

डीजी वंजारा और एनके अमीन को राहत, इशरत जहां एनकाउंटर मामले में बरी

Posted on: 02 May 2019 16:21 by bharat prajapat
डीजी वंजारा और एनके अमीन को राहत, इशरत जहां एनकाउंटर मामले में बरी

इशरत जहां एनकाउंटर मामले में डीजी वंजारा और एनके अमीन को सीबीआई कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। दरअसल गुरूवार को कोर्ट ने इस माममेल में बड़ा फैसला सुनाते हुए वंजारा और एनके अमीन को रिहा कर दिया है। बता दे कि गुजरात सरकार ने दोनों पूर्व अधिकारियों के खिलाफ केस चलाने की अनुमति को खारिज कर दिया था। जिसके चलते इन दोनो पूर्व अधिकारियों को रिहा किया गया है।

सीबीआई ने केस चलाने की मांगी थी अनुमति-

बता देे कि केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने गुजरात सरकार से डीजी वंजारा और एनके अमीन के विरूद्ध मुकदमा चलाने की अनुमति मांगी थी। लेकिन मार्च 2019 में प्रदेश सरकार दोनों पूर्व अधिकारियों के खिला़फ मुकदमा चलाने की अनुमति देने से मना कर दिया था। जिसके चलते गुरूवार को सीबीआई कोर्ट ने दोनों को आरोप मुक्त किए जाने का फैसला सुनाया है।

सीबीआई ने कोर्ट से कि इशरत जहां और तीन अन्य लोगों को फर्जी मुठभेड़ में मारने वाले पूर्व अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा चलाने की अनुमति की मांग की थी। लेकिन गुजरात सरकार ने दोनों पूर्व अधिकरियों के खिलाफ मुकदमा चलाने की अनुमति से इंकार कर दिया था।

गौरतलब है कि इससे पहले दोनो पूर्व अधिकारियों को सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा रिहा करने की मांग करने वाले आवेदन को भी रद्द कर दिया था। तब सीबीआई से अदालत नेसवाल किया था कि वो अपना रूख स्पष्ट करें क्या वो दोनों पूर्व अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए राज्य सरकार से अनुमति चाहते हैं या नहीं?

जिसके बाद राजय सरकार को सीबीआई द्वारा दोनों पूर्व अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा चलाने की अनुमति देने के लिए गुजरात सरकार को पत्र लिखा गया था। लेकिन राज्य सरकार ने मार्च 2019 में सीबीआई की मांग को खारिज कर दिया था। बता दे कि वंजारा पूर्व डीआईजी हैं और एनके अमीन रिटार्यड एसपी है।

दरअसल 15 जून 2004 को मुंब्रा निवासी 19 वर्षीय इशरत जहां, जावेद शेख उर्फ प्रणेश पिल्लै, अमजद अली अकबर अली राणा और जीशान जौहर को अहमदाबाद के पास पुलिस ने एक फर्जी मुठभेड़ के दौरान मार दिया था। इस मामले में सीबीआई द्वारा सात आरोपियों के खिलाफ दाखिल आरोप पत्र में वंजारा और अमीन का नाम भी शामिल हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com