खुशखबरी: अप्रैल में Indore से शुरू होगी अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट| International flight will be start by april from Indore Airport

0
84
indore airport-

मध्य प्रदेश के इंदौर ने बुधवार को हैट्रिक लगा दी है। इस बीच एक इंदौरवासियों के लिए अच्छी खबर है। अप्रैल 2019 से शारजहां की पहली अंतरराष्ट्रीय सीधी फ्लाईट प्रारम्भ होने वाली है। इस बात की पुष्टि एयरपोर्ट एडवाइजरी कमेटी की बैठक में लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन द्वारा दी गई।

Read More:- Indore फिर बना देश में सबसे स्वच्छ शहर| SwachhSurvekshan2019: Indore again cleanest city

इंदौर के देवी अहिल्या एयरपोर्ट को तीन श्रेणियों में प्रथम पुरस्कार मिला है। एशिया पेसिफिक के 49 एयरपोर्ट जिसमें (20 से 50 लाख तक आबादी) वाले शहर सम्मिलित थे। भारतवर्ष के भी 7 शहरों के एयरपोर्ट सम्मिलित थे।

Read More:- चौथी बार भी मैदान नहीं छोड़ना चाहती महापौर| Indore Mayor Malini Lakshman Singh Gaur

इंदौर एयरपोर्ट को प्रथम पुरस्कार *बेस्ट कस्टमर सर्विसेज, best infrastructure ,30 लाख से अधिक यात्रियों के सफर करने पर 20 से 50 लाख आबादी वाले शहरों में सर्वाधिक विमान सेवा के उपयोग का प्रथम पुरस्कार भी मिला है। इंदौर को सर्वाधिक तीन पुरस्कार प्राप्त हुए।

तीसरी बार नंबर 1 बना इंदौर

Indore शहर स्वच्छता में लगातार तीसरी बार नंबर 1 बना है। Swachchhata Survekshan 2019 का पुरस्कार इंदौर को दिया मिला है। यह विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा पुरस्कार दिया गया है। वही मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल को सबसे स्वच्छ राजधानी चुनी गई है।

Read More:- Indore महापौर गौड़ ने सफाई मित्रों के साथ किया भोजन

इंदौर स्वच्छता सर्वेक्षण-2019 का पुरस्कार कोविंद ने नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह, इंदौर की महापौर मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़, नगर निगम कमिश्नर आशीष सिंह, नेता प्रतिपक्ष फौजिया शेख अलीम, कंसल्टेंट असद वारसी को सौपा। दस लाख की आबादी वाली कैटेगरी में उज्जैन को सबसे स्वच्छ शहर चुना गया। शहरी विकास मंत्रालय द्वारा 4237 शहरों में सर्वे किया गया था। जिसमे टॉप- 10 का सिलेक्शन किया गया है।

Read More:- अब इंदौर की नदियां साफ करेगी नगर निगम | Indore Nagar Nigam will now clean rivers

Indore के लिए बेहद गौरव की बात है कि इंदौर में तीसरी बार भी स्वच्छता में नंबर वन का पुरस्कार प्राप्त कर लिया है यानी इंदौर में जो गाना गूंज रहा था ‘इंदौर लगाएगा हैट्रिक’ तो सचमुच हैट्रिक लग गई। इसका पूरा श्रेय इंदौर की महापौर मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़ तथा पूर्व कमिश्नर Manish Singh तथा वर्तमान कमिश्नर Ashish Singhको दिया जा सकता है। पूरे देश में मालिनी गौड़ एकमात्र ऐसी महापौर है जिन के कार्यकाल में इंदौर में लगातार तीसरी बार यह पुरस्कार प्राप्त किया है क्योंकि सभी शहरों के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ कि किसी एक महापौर के कार्यकाल में लगातार तीन पुरस्कार मिले हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here