इस मंदिर में स्वयं नाग देवता करते है भोलेनाथ की पूजा और रखवाली

0
116
41480135-974c-4b91-ae3c-1b69c9e07850

आज हम बात कर रहे है उत्तरप्रदेश के लखनऊ स्थित नागेश्वर शिव मंदिर की जो लखनऊ के बख्शी तालाब के पास स्थित है, ये मंदिर बहुत ही पौराणिक और एतेहासिक है, इसकी स्थापना 17 वी सदी में की गई थी, इसी के साथ मंदिर के पास ही ऐतिहासिक त्रिपुर चंद्र बख्शी का तालाब और ठाकुरद्वारा व बड़ी बाजार भी स्थित है. इस मंदिर में सदियों पुरानी शिवलिंग स्थापित है. इस मंदिर की मान्यता है कि मंदिर में स्थित शिवलिंग खुद ही धरती से प्रकट हुई है. और इस मंदिर में सवान के पूरे माह जो भी आकर शिव जी की पूजा-आराधना करता है और प्रतिदिन भोलेनाथ को जल चड़ाकर तींन मुखी बेलपात्र समर्पित करता है शिव उसकी हर मनोकामना पूर्ण करते है. हर साल नागपंचमी, महाशिवरात्रि और कई अवसरों में इस मंदिर में मेला भी लगता है, जिसमे लाखो लोग भाग लेते है. इस मंदिर को लेकर एक और कथा प्रचलित है. आप को बता दे यहां के लोगो द्वारा ऐसा बताया जाता कि इस मंदिर में एक नाग हर रोज़ रात सालो से यहां आकर भगवान नागेश्वर महादेव की पूजा-आराधना करता है और इसी के साथ वो मंदिर और पूरे गाँव कि रक्षा भी करता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here