Breaking News

इस महिला आईएएस ने की नोटों से महात्मा गांधी की फोटो हटाने की मांग

Posted on: 01 Jun 2019 21:13 by bharat prajapat
इस महिला आईएएस ने की नोटों से महात्मा गांधी की फोटो हटाने की मांग

मुम्बई। महाराष्ट्र की निधि चौधरी नाम की एक आईएएस अधिकारी ने महात्मा गांधी के खिलाफ ट्वीट कर नए विवाद को जन्म दे दिया है। दरअसल नीधि ने 17 गई को विादित टिप्पणी करते हुए लिखा था कि हम महात्मा गांध्ली की 150 जयंति मनाने जा रहे हैं, यही मौका है कि हम हमारे नोटों से उनकी तस्वीर को हटा दे और दुनिया भा से उनकी मूर्तियां भी हटा दे।

वहीं इस ट्वीट के बाद नीधि की जमकर आलोचना हुई थी, जिसके बाद उन्होने अपने ट्वीट को डिलीट कर दिया था। लेकिन अब एनसीपी ने उन्हे संस्पेड करने की मांग कर डाली है।

बता दे कि निधि चैधरी 2012 बैच की आईएएस अफसर है और वर्तमान इमें बीएमसी में पदस्थ हैं। इससे पहले वह सहायक कलेक्टर भी रह चुकी हैं।

किया था ये ट्वीट-
निधि ने 17 मई को एक ट्वीट में उन्होंने लिखा था कि ष्हम शानदार रूप से 150 जयंती मना रहे हैं, यही मौका है कि हम अपने नोटों से उनका चेहरा हटा दें, दुनिया भर से उनकी मूर्तियां हटा दें, उनके नाम से रखी गई संस्थाएं और सड़कों के नाम बदल दें, ये हम सभी की ओर से उन्हें असली श्रद्धांजलि होगी, 30 जनवरी 1948 के लिए थैंक्यू गोडसे।’

एनसीपी ने जताई आपत्ति-

निधि के इस ट्वीट के बाद एनसीपी ने इस मामले में जमकर अपनी नाराजगी जाहिर की है। साथ ही उन्हें नौकरी से सस्पेंड करने की मांग की है। एनसीपी नेता जितेंद्र अनहद ने कहा कि ‘गांधी जी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी के लिए हम तुरंत निधि चैधरी के सस्पेंशन की मांग करते हैं, उन्होंने नाथुराम गोडसे को महिमामंडित किया है, इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।’

विवाद बढ़ता देख डिलीट किया ट्वीट-

निधि चौधरी ने इस ट्वीट पर बवाल होता देख इसे डिलीट कर दिया और एक अन्य ट्वीट कर कहा कि ‘17 मई के अपने ट्वीट को मैंने डिलीट कर दिया, क्योंकि कुछ लोग इसे गलत समझ गए। अगर वो 2011 से मेरे टाइमलाइन को फॉलो किए हुए होते तो वे समझते कि मैं गांधी जी का अनादर करने की सोच भी नहीं सकती हूं। मैं उनके सामने पूरी श्रद्धा से सर नवाती हूं और अपनी आखिरी सांस तक ऐसा करती रहूंगी।’

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com