Breaking News

रोजगार दिलाने वाला हिंदुस्तान का अनोखा पार्षद दीपक जैन

Posted on: 22 May 2018 07:33 by hemlata lovanshi
रोजगार दिलाने वाला हिंदुस्तान का अनोखा पार्षद दीपक जैन

इंदौर: नेता जनता को फायदा पहुंचाने के लिए कोई ऐसा ठोस काम नहीं करते जो स्थाई हो। भोजन, भंडारे, कथा से हटकर इंदौर के एक पार्षद ने वह काम किया जो शायद देश के चुनिंदा नेता भी नहीं करते।

जी हां बिल्कुल सही बात है, इंदौर  के पार्षद दीपक जैन ने रोजगार दिलाने के लिए एक मेला लगाया उसमें कई बड़ी कंपनी आई थी कंपनियों ने योग्य व्यक्तियों का चयन किया और उनको नौकरियां दी। इस तरह से यदि हर पार्षद काम करेगा तो निश्चित रूप से राजनीति की वास्तविक परिभाषा सार्थक साबित हो पाएगी।
घमासान डॉटकॉम दीपक जैन के बारे में ही नहीं बता रहा है बल्कि उन सारे नेता और जनप्रतिनिधियों से आग्रह भी करता है, कि यदि वह आम जनता को फायदा पहुंचाना चाहते हैं तो उनको तात्कालिक लाभ ना देकर ऐसा काम करें जो उनके जीवन में स्थाई हो और उसका लाभ उनके पूरे परिवार को मिल सके। पांच हजार वोटों से जीतने वाले वार्ड 6 के बीजेपी पार्षद दीपक जैन का मकसद अपनी सीट बचाना नहीं, बल्कि लोगों के लिए सेवा कार्य करना है। deepak 11

मेले में शामिल हुए तीन हजार युवा 

संस्था सार्थक के अध्यक्ष दीपक जी  ने बताया कि हमारी संस्था द्वारा 7 अप्रैल को “दिशा-2018” रोजगार मेला राजमोहल्ला स्थित खालसा स्टेडियम पर आयोजित किया गया था। तीन हजार प्रतिभागी, 54 निजी कंपनियां, 17 केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं के स्टॉल, दिव्यांग जन के लिए विशेष कंपनी आई थी। इसके साथ ही निशुल्क कैरियर मार्गदर्शन भी दिया गया। मेले में नौ सौ से अधिक युवाओं को विभिन्न कंपनियों द्वारा चयनित किया गया। मेले में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने “दिशा-2018” रोजगार मेले के माध्यम से कंपनियों द्वारा चयनित प्रतिभागियों को नियुक्ति पत्र का वितरण कर उन्हें आने वाले भविष्य की शुभकामनाएं दी।

deepak 10

स्वच्छता बड़ी चुनौती

दीपक जी ने बताया कि मेरे लिए पार्षद बनना चुनौतिपूर्ण था। वार्ड में कई बड़ी समस्याएं थी जिसमें स्वच्छता सबसे बड़ी समस्या थी। खैर हल निकाला और इसमें लोगों ने सहयोग भी किया जो मेरे लिए सबसे बड़ी बात थी। शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार तीन मुद्दे अहम है मेरे लिए। deepak 1

अनोखी शुरूआत
पार्षद बनते ही लोगों की समस्यां हल करने के लिए कंप्लेंट बॉक्स लगाया। हर कंप्लेंट का हम रिकार्ड रखते हैं ताकि उसका फॉलोअप ले सकें। क्या समस्यां है, कैसे दूर होगी, कब दूर होगी, हल हुई या नहीं पूरी जानकारी रखते हैं। इसके बाद भी लोगों से सम्पर्क करते हैं कि समस्यां दूर हुई या नहीं।  deepak 4

मात्र दो रूपए में मिलता है पैड
आंगनवाड़ी में सेनेटरी नैपकिन की मशीन लगवाई। इसके माध्यम से मात्र दो रूपए में मिलता है पैड। मशीन लगने से स्वास्थ्य के साथ ही महिलाओं को रोजगार भी मिला। तीन लाख रूपए की लागत से जर्जर पड़े स्कूल का निर्माण करवाया। स्कूल में आधुनिक प्लेग्राउंड, लैब क्लासरूम बनवाएं। सार्वजनिक उत्सवों के आयोजन के लिए धर्मशालाएं बनाई। सड़क, ड्रेनेज समस्यां, पौधारोपण आदि के साथ ही गायों के भोजन के लिए वार्ड में गौ -सेवा वाहन की शुरूआत की। घरों से रोटियां लेकर गौशाला पहुंचाई जाती हैं।

जनता क्लिनिक

विकास कार्यो के साथ-साथ जनसेवा के लिए “जनता क्लिनिक” सेवाश्रम की शुरूआत जल्द ही होने वाली। प.दीनदयाल उपाध्याय के मूलमंत्र अंत्योदय से समाज के सबसे निचले पायदान पर जो व्यक्ति है, उसके उत्थान का प्रयास प्राथमिकता से होना चाहिये। इसी विचार को आत्मसात करते हुए रामनगर-इंद्रानगर बस्ती में जनता क्लिनिक का शुभारंभ होने जा रहा है। क्लिनिक प्रतिदिन सुबह 9 से 12 बजे तक कार्यरत रहेगा। जहां डॉक्टर द्वारा प्राथमिक उपचार की सुविधा उपलब्ध रहेगी। बहुत ही कम शुल्क में यहां डॉक्टर के प्रशिक्षण के साथ दवाई भी मिलेंगी। श्री सांई बाबा मंदिर ट्रस्ट छत्रीबाग़ द्वारा बहुत ही कम शुल्क में पैथोलॉजी की सुविधा भी होगी। समय-समय पर जनता क्लिनिक पर विशेषज्ञ चिकित्सकों के शिविर भी आयोजित होंगे।

deepak 5

खुशियों का बस्ता अभियान
खुशियों का  बस्ता अभियान चलाया जो सफल भी रहा। अब लोग खुद आते हैं, मदद के लिए। इस अभियान के तहत सम्पन्न परिवारों के बच्चों द्वारा यूज बस्ते लेकर उन्हें नया कर जरूरतमंद बच्चों को देते हैं। असल में अच्छी फैमिली के बच्चें साल भर में ही दो से तीन बार बैग बदल देते हैं जो खराब भी नहीं होते। उन्हें हम ले लेते हैं और सुधार कर बच्चों को देते हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com