प्रेग्नेंसी में इस तरह फायदेमंद होती हैं डार्क चॉकलेट, ये परेशानियां होगी दूर

चॉकलेट खाना बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी को बहुत पंसद होता है आम तोर पर लोग चॉकलेट को जंक फूड मानते हैं इसीलिए रोज चाकलेट खाने से बचते हैं और बच्चों को भी नहीं खाने देते हैं लेकिन ऐसा नहीं है, चॉकलेट खाना सेहत के लिए बुरा नहीं है।

0
35
डार्क चॉकलेट

चॉकलेट खाना बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी को बहुत पंसद होता है। आम तोर पर लोग चॉकलेट को जंक फूड मानते हैं इसीलिए रोज चाकलेट खाने से बचते हैं और बच्चों को भी नहीं खाने देते हैं। लेकिन ऐसा नहीं है, चॉकलेट खाना सेहत के लिए बुरा नहीं है। बताया जाता है कि प्रेग्नेंसी के दौरान चॉकलेट खाना माँ और बच्चा दोनों के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। यह इस दौरान होने वाले तनाव को कम करने के लिए लाभकारी माना जाता है।

आपको बता दे, एक स्टडी के दौरान पता चला है कि 30 ग्राम चॉकलेट रोजाना खाने से गर्भ में पल रहे शिशु का विकास अच्‍छी तरह होता है। चॉकलेट में भरपूर मात्रा में फ्लावोनोइड्स पाया जाता है, जो एक प्रकार का एंटीओक्सीडेंट का काम करता है इसीलिए प्रेग्नेंसी के दौरान चॉकलेट खाना काफी फायदेमंद माना जाता है। इसके अलावा भी चॉकलेट के कई और फायदे मां के शरीर पर होते हैं। चॉकलेट में एंटीऑक्‍सीडेंट होता है, जोकि फ्री रैडिकल्‍स से शरीर की मदद करता है. इससे बच्‍चा भी फ्री रैडिक्‍ल से बचा रहता है।

चॉकलेट से दर्द में भी रहत मिलती हैं। इसलिए अक्सर दर्द होने या इंजेक्शन लगने की स्थिति में लोगों को मीठा खाने की सलाह दी जाती है। बता दे, कुछ महिलाएं चॉकलेट बिलकुल नहीं खाती हैं, ऐसी महिलाओं की तुलना में चॉकलेट खाने वाली महिलाओं के बच्चे ज्यादा कॉन्फिडेंट रहते हैं। चॉकलेट खाने वाली माँ के बच्चे स्वस्थ और निर्भीक होते हैं। वे ज़िंदगी की हर कठिन परिस्थिति में भी अपनी आसान राह ढूंढ लेते हैं। इसलिए प्रेग्नेंसी में महिलाओं को चॉकलेट खाने की सलाह दी जाती हैं।

चॉकलेट रखता है इन परेशानियों से दूर –

  • प्रेग्नेंसी के दौरान महिला में काफी बदलाव आते हैं और इसी कारण उनमें स्ट्रेस और चिड़चिड़ापन हो जाता है, लेकिन अगर इस दौरान महिला डार्क चॉकलेट खाती हैं तो उनका स्ट्रेस काफी कम होगा। चॉकलेट उन हार्मोन्स को बढ़ने से रोकता है जिनकी वजह से शरीर में तनाव होता है। यह ब्‍लड प्रेशर को मेंटेन करने के साथ तनाव के लेवल को भी कम करती है।
  • गर्भवती महिला को अक्सर हीमाग्लोबीन की कमी की समस्या होती है लेकिन डार्क चॉकलेट खाने से यह प्रॉबल्म कम हो सकती है। इसमें मैग्नीशियम और आयरन होता है, जिससे हीमाग्लोबीन बढता है।
  • डार्क चॉकलेट दिल के लिए भी काफी फायदेमंद होता है, इसमें एंटीऑक्सीडेंट मौजूद है जिसका नाम फ्लावोनोइड है, और इसके लगातार सेवन से दिल की बिमारियों का खतरा कम होता है और यह दिल के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है।
  • डार्क चॉकलेट के सेवन से स्कैल्प का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है, जिससे हेयर फॉल यानि कि बालों का झड़ना कम होता है। चॉकलेट की मदद से बाल सुंदर व स्वस्थ भी होते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here