Breaking News

Cyclone Fani: आज रात बंगाल पहुंचेगा ‘Fani’, अलर्ट पर ये जिले

Posted on: 03 May 2019 13:03 by Surbhi Bhawsar
Cyclone Fani: आज रात बंगाल पहुंचेगा ‘Fani’, अलर्ट पर ये जिले

Cyclone Fani ओडिशा के पुरी तट पर पहुंचकर तांडव मचा रहा है. यहां तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है। तेज हवाओं के कारण कई पेड़ क्षतिग्रस्त हो गए है। मौसम विभाग की माने तो पुरी में 240-250 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से हवाएं चल रही है। Cyclone Fani के कहर को देखते हुए नौसेना अलर्ट पर है और प्रशासन ने भी इससे लड़ने की पूरी तैयारी कर ली है।

पंजाब पहुंचेगा ‘Cyclone Fani’

ओडिशा के तट को पार करने के बाद चक्रवर्ती Cyclone Fani बंगाल में दस्तक देगा। इस तूफ़ान से राज्य के पूर्वी और पश्चिमी मेदिनीपुर, दक्षिणी और उत्तरी 24 परगना, हावड़ा, हुगली, झारग्राम एवं कोलकाता जिले के प्रभावित होने की आशंका जताई जा रही है।

Cyclone Fani के खतरे को देखते हुए पश्चिम बंगाल के सभी सरकारी स्कूलों में आज से गर्मियों की छुट्टियों की घोषणा कर दी है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अगले 48 घंटे के लिए अपनी चुनावी जनसभाओं को रद्द कर दिया है। इतना ही नहीं कोलकाता एयरपोर्ट आज रात 9:30 बजे से शनिवार सुबह 6 बजे तक बंद रहेगा।

आंध्र में असर

ओडिशा के पुरी तट पर कहर बरसा रहे इस Cyclone Fani का असर आंध्र प्रदेश में भी देखने को मिल रहा है। राज्य के श्रीककुलम जिले में बारिश और तेज हवा का प्रकोप जारी है। कलिंगपटनम और भीमुनिपटनम को अत्यधिक खतरे का निशान दिया गया है। इसके अलावा विशाखापटनम और रंगावरन बंदरगाह पर भी सुरक्षा के भारी इंतजाम किए गए हैं।

103 ट्रेनें की रद्द

‘Cyclone Fani‘ अब और भी खतरनाक होता जा रहा है। इसके चलते पहले से ही नुकसान से बचने और सुरक्षा को देखते हुए सरकार ने भारतीय नौसेना, भारतीय तटरक्षक बल और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की 78 टीमों को तैनात किया गया है। रेलवे ने भी Cyclone Fani से बचने के लिए बुधवार को 22 ट्रेनों को रद्द किया था। तूफान के कारण रद्द की गई ट्रेनों की संख्या 103 हो गई है। वहीं रेलवे ने भी Cyclone Fani तूफान से बचाव के लिए कुछ बदलाव किए है।

 1.5 मीटर ऊंची तूफानी लहर

मौसम विभाग का कहना है कि Cyclone Fani की वजह से करीब 1.5 मीटर ऊंची तूफानी लहर उठ सकती है। इस वजह से तटीय क्षेत्र से ओडिशा के गंजाम, खुर्दा, पुरी और जगतसिंहपुर जिलों के निचले तटीय क्षेत्रों में बाढ़ आ सकती है। हालांकि केंद्र और राज्य सरकार ने बचाव कार्य के सारे इंतजाम कर रखे हैं और सेना व बचाव दल को अलर्ट पर है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com