Breaking News

ओडिशा में ‘फैनी‘ जैसे कई तूफान मचा चुके कोहराम

Posted on: 03 May 2019 12:56 by Pawan Yadav
ओडिशा में ‘फैनी‘ जैसे कई तूफान मचा चुके कोहराम

चक्रवाती तूफान ‘फैनी‘ ने ओडिशा में कोहराम मचा रहा है। तेज बारिश के बीच 175 किमी प्रति घंटे की रफ्तार हवाएं चलने के कारण कई पेड़ धराशायी हो गए, बल्कि कई मकान ध्वस्त हो गए। हालांकि केंद्र और राज्य सरकार ने आपात स्थिति से निपटने के लिए सारे इंतजाम कर रखे थे। सरकार ने सक्रियता दिखाते हुए तूफान आने से पहले ही करीब 12 लाख लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ओडिशा इससे पहले भी कई तूफानों का सामना कर चुका है।

fani cyclone

बताया जा रहा है कि वर्ष 1893, 1914, 1917, 1982 और 1989 और 1999 के दौरान ओडिशा में तूफान ने कहर बरपाया था। इसमें करोड़ों रूपए का नुकसान हुआ था, बल्कि कई लोगों की जान भी गई थी। फैनी तूफान से 20 साल पहले वर्ष 1999 में ‘सुपर साइक्लोन‘ तूफान आया था, जिसमें करीब 10 हजार लोगों की मौत हो गई थी, बल्कि पूरा ओडिशा तहस-नहस सा हो गया था। इस तूफान के कारण करीब 15 लाख लोग बेघर हो गए थे, तब हवा की करीब 250 किलोमीटर प्रति घंटा थी। हालांकि पिछले साल आए ‘तितली तूफान‘ से 15 जिले प्रभावित हुए थे। इसमें 27 लोगों को जान गंवाना पड़ी थी, बल्कि 50 लाख लोग प्रभावित हुए थे। इससे पहले केरल व तमिलनाडु में आए गाजा तूफान में 45, ओखी तूफान में 250, ओडिशा के हुदहुद तूफान में 40, फैलिन तूफान में 30 लोगों की मौत हो गई थी।

Read More : LIVE: ‘फैनी’ का तांडव, ममता ने रद्द की सभाएं, विशाखापट्टनम से मुंबई के लिए स्पेशल ट्रेन

आखिर क्या है फैनी तूफान, जानिए सच

बीते कुछ दिनों से हर जगह फैनी तूफान की चर्चा हो रही है। यह चक्रवाती तूफान काफी ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा है। यह फैनी तूफान ओडिशा के पुरी से टकरा गया है। पुरी में 245 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है और तेज हवाएं चल रही है। पुरी के तांडव को देखते हुए प्रशासन पहले से ही अलर्ट पर है। यहां पेड़ गिरने से एक शख्स की मौत हो गई है। समुद्री किनारों से लोगों को हटा कर सुरक्षित जगहों पर पहुंचा दिया गया है।तूफान से लड़ने की तैयारियों पर खुद मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने अपनी नजर बनाई रखी है, लेकिन क्या है यह फैनी तूफान और और कहा से आया है यह फैनी शब्द आइए आपको बताते है फैनी के बारे में ।

चक्रवाती तूफान का नाम फैनी बांग्लादेश ने दिया है। फैनी नाम 64 नामों के पूल से लिया गया है। विश्व मौसम विभाग के नियम के अनुसार, नाॅर्थ इंडियन ओशन बेसिन के 8 देशों से तूफानों के अलग अलग नाम दिए जाते है। इनमें से ही किसी एक नाम को चुनते है। तूफानों के नामकरण में वर्ष के अंक को भी ध्यान में रखा जाता है। अलग अलग क्षेत्र के अनुसार विश्व मौसम विभाग की रीजनल ट्रोपिकल साइकलोन कमेटी ही नामों के चयन का निर्णय लेती है।

Read more : ओडिशा में फैनी का कहर, कई जगह बिजली गुल

तूफान के चलते अब तक 223 ट्रेनें रद्द

तूफान से ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल के प्रभावित होने की आशंका के चलते रेलवे ने सुरक्षा की दृष्टि से चेन्नई से कोलकाता रूट पर चलने वाली करीब 223 ट्रेनों को 4 मई तक रद्द कर दिया है। इतना ही नहीं अगले 24 घंटे तक ओडिशा के भुवनेश्वर से कोई भी फ्लाइट उड़ान नहीं भरेगी। वहीं कोलकाता से भी फिलहाल उड़ानों पर रोक लगा दी है। बताया जा रहा है कि कोलकाता, रांची और भुवनेश्वर से आने-जाने वाली सभी उड़ानों के टिकट रद्द कर दिए गए हैं। स्थिति सुधरने तक उड़ाने रद्द रहेंगी।

Read more : LIVE: ‘फैनी’ का तांडव, ममता ने रद्द की सभाएं, विशाखापट्टनम से मुंबई के लिए स्पेशल ट्रेन

 

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com