कांग्रेस ने राहुल गांधी के लिए मांगी सीट, तो मोदी सरकार से मिला ये जवाब

0
31
rahul gandhi

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में भाजपा और एनडीए को प्रचंड जीत मिली है, जबकि कांग्रेस मात्र 53 सीट ही जीत पाई थी। इससे पहले 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को 44 सीट मिली थी। दोनों चुनाव के बाद कांग्रेस को विपक्ष का दर्जा नहीं मिल पाया। हालांकि इस बार कांग्रेस ने लोकसभा में पश्चिम बंगाल से चुनाव जीतकर आए अधीर रंजन चौधरी को नेता बनाया है।

लोकसभा में पार्टी के नेता अधीर रंजन और यूपीए चेयरमैन सोनिया गांधी पहली पंक्ति में बैठते हैं, जबकि राहुल गांधी को दूसरी पंक्ति में जगह मिली है। ऐसे में कांग्रेस ने राहुल गांधी के लिए भी पहली पंक्ति में जगह मांगी है। बताया जा रहा है कि अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के कारण राहुल सांसद के बतौर दूसरी पंक्ति में बैठेंगे।

Rahul-Gandhi

कांग्रेस ने लोकसभा में राहुल गांधी के लिए पहली कतार में सीट मांगी थी, किंतु लोकसभा सचिवालय ने मना कर दिया और कहा कि सिर्फ यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी और लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चैधरी को ही पहली कतार में सीट दी जा सकती है। सरकार की तरफ से कांग्रेस को ये भी तर्क दिया गया कि राहुल गांधी तो पार्टी के अध्यक्ष भी नहीं रहे।

राहुल को दूसरी कतार में सीट मिल सकती है। 2014 में चुनाव जीतकर आने के बाद राहुल गांधी को दूसरी पंक्ति में जगह मिली थी, तब सोनिया गांधी और मल्लकिार्जुन खड़गे पहली पंक्ति में बैठते थे। खड़गे को तब कांग्रेस ने लोकसभा में पार्टी का नेता बनाया था, उस समय राहुल गांधी अपने साथी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, दीपेंदर हुड्डा के साथ दूसरी पंक्ति में बैठते थे, किंतु अब कांग्रेस उनके लिए पहली पंक्ति में जगह चाह रही थी, किंतु उन्हें दूसरी पंक्ति में बैठना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here