कांग्रेस के दोस्त बने भाजपा के ‘शत्रु‘ | Congress’ friend became BJP’s’Shatrughan Sinha’

0
96
ShatruGhan sinah

भाजपा के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा गुड़ी पड़वा पर विधिवत रूप से कांग्रेस में शामिल हो गए। इससे पहले वह 28 मार्च को कांग्रेस में शामिल होने वाले थे, लेकिन बिहार में गठबंधन को लेकर हुई खींचतान के कारण मामला अटक गया था। वहीं कांग्रेस ने पहले ही बिहार में चुनाव के प्रचार के लिए शत्रुघ्न सिन्हा को स्टार प्रचारक घोषित कर दिया था। इससे पहले सिन्हा ने ट्वीट कर भाजपा छोड़ने का ऐलान किया। उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि भाजपा के स्थापना दिवस पर पार्टी बड़े भारी मन से छोड़ रहा हूं। सबको पता है कि मैं भाजपा क्यों छोड़ रहा हूं।

Read More : राहुल गांधी के भाषण पर फिदा हुए बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा , कहा- उन्होंने महफिल लूट ली

उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी अब लोकशाही के बदले तानाशाही में बदल गई। इतना ही नहीं, पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को मार्गदर्शक मंडल डाल दिया। भाजपा ने अपने ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का अपमान किया। उन्होंने कहा कि भाजपा अब वन मैन शो, टू मैन आर्मी बन गई है। इसी वजह से सरकार के कई मंत्री डरे हुए हैं। क्योंकि सभी फैसले पीएमओ से होता है। व्यक्ति से बड़ी पार्टी और पार्टी से बड़ा देश होता है। इस दौरान सिन्हा ने बेरोजगारी, नोटबंदी, राफेल सौदा और किसानों का मुद्दा उठाया।

नोटबंदी से बर्बाद हुए उद्योग-धंधे

बिना किसी राय लिए नोटबंदी का फैसला लिया। इस कारण लाखों लोग बेरोजगार हो गए, बल्कि कई लोगों के धंधे और व्यापार चैपट हो गई। इतना ही नहीं, प्रधानमंत्री मोदी ने नोटबंदी का ढकोसला दिखाते हुए अपनी मां को नोटबंदी के दौरान लाइन में लगवा दिया। शत्रुघ्न सिन्हा ने वरिष्ठ भाजपा नेता के ब्लाॅग के बारे में कहा कि लालकृष्ण आडवाणी ने बिलकुल सही कहा है, जो भाजपा से असहमत हूं उसे वह देशद्रोही मानते हैं।

Read More : शत्रुघ्न सिन्हा का मोदी पर हमला, पूछा- ‘ये क्या हो रहा हैं?’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here